Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा में सामने आए ब्लैक फंगस के दस मरीज, दो की मौत

नोएडा में सामने आए ब्लैक फंगस के दस मरीज, दो की मौत

नोएडा में सामने आए ब्लैक फंगस के दस मरीज, दो की मौत
X

गौतमबुद्ध नगर: कोरोना संक्रमण से जूझ रहे उत्तर प्रदेश में ब्लैक फंगस इंफेक्शन धीरे-धीरे कई जिलों में फैल गयी है। कानपुर और लखनऊ में कुल 3 मरीजों की जान लेने के बाद ब्लैक फंगस ने गौतमबुद्ध नगर में भी दस्तक दे दी है। नोएडा में अब तक 10 मरीज सामने आ चुके हैं। जबकि एक महिला और एक पुरुष की मौत हो चुकी है। हालांकि प्रशासन ने अब तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है।

सरकारी आंकड़ों के हिसाब से यहां अब तक कोई ब्लैक फंगस का मरीज सामने नहीं आया है। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को नोएडा में 6 संक्रिमत मरीजों में ब्लैक फ़ंगस की पुष्टि हुई थी। सभी मरीज यथार्थ अस्पताल में भर्ती हैं। 1 महिला मरीज की मौत हो चुकी है। अखबारों में छपी सूचना के आधार पर 4 और केस ब्लैक फंगस के सामने आए हैं, जिसमें से एक शख्स की मौत होने की खबर है। दरअसल कोरोना संक्रमण इलाज के दौरान अधिक मात्रा में स्टेरॉयड लेने की वजह से ब्लैक फंगस का खतरा बढ़ गया है।

मथुरा में ब्लैक फंगस के तीन मामले सामने आए हैं। ब्लैक फंगस के मामले सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। मथुरा, वृंदावन और राया में ब्लैक फंगस के 3 मामले सामने आए हैं। उसके बाद स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन कोविड-मरीजों की डिस्चार्ज के बाद भी मोनिटरिंग करने की तैयारी में है। ब्लैक फंगस के मामलों में देखने को मिला है कि यह लोग कोविड-पॉजिटिव होने के बाद अपने घर चले गए, जिसके बाद इन्हें इंफेक्शन ने घेर लिया। वृंदावन के बनखंडी क्षेत्र निवासी 70 वर्षीय मिथलेश देवी कोरोना की चपेट में आ गई, जिसके बाद उन्हें ब्लैक फंगस इंफेक्शन ने भी घेर लिया है। उनकी आंखों की रोशनी चली गई है। ऐसे ही राया क्षेत्र के रहने वाले एक युवक की ब्लैक फंगस इंफेक्शन के कारण जबड़े में परेशानी पैदा हो गई है। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग सभी लोगों से संपर्क साधने की कोशिश कर रहा है।

—ईएमएस

Updated : 15 May 2021 9:01 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top