Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > प्रयागराज: मेडिकल कॉलेज सामूहिक दुष्कर्म मामले में निष्पक्ष जांच के लिए आईजी को सवालों भरा पत्र

प्रयागराज: मेडिकल कॉलेज सामूहिक दुष्कर्म मामले में निष्पक्ष जांच के लिए आईजी को सवालों भरा पत्र

प्रयागराज: मेडिकल कॉलेज सामूहिक दुष्कर्म मामले में निष्पक्ष जांच के लिए आईजी को सवालों भरा पत्र
X

प्रयागराज (दैनिक हाक): इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ की पूर्व अध्यक्ष और सपा नेता डॉ ऋचा सिंह ने मानवाधिकार आयोग द्वारा निर्देशित एवं डीजीपी उत्तर प्रदेश द्वारा रेप विक्टिम के आरोपों के जाँच के स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (मानक प्रक्रिया ) के संदर्भ में डीजीपी की पत्रांक संख्या 43/2020, दिनांक 23/12/2020 के आधार पर आई.जी प्रयागराज एवं सीएमओ प्रयागराज को एक पत्र भेजकर, निष्पक्ष जाँच के लिये कुछ सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि

क्योंकि सर्कुलर के हिसाब से जांच के लिए अधिकतम समय सीमा 7 दिन मात्र होती है परंतु एसआरएन रेप पीड़िता के केस में घटना के आठवें दिन जब एफआईआर लिखी गई है तो आगे की जांच प्रक्रिया कैसे होगी‌।डॉ ऋचा सिंह ने कहा कि

क्या पीड़िता के कपड़े उसके आंतरिक अंगों से सेंपल एकत्रित कर फोरेंसिक लैब भेजे गए?, शरीर पर पाए गए घाव इत्यादि का इसका सैंपल सीएमओ ने लिया था? यदि लिया था तो क्या उसको फोरेंसिक जाँच के लिये लैब भेजा गया?क्या धारा 532 (2 ए) सीआरपीसी के तहत आरोपियों की मेडिकल जांच की गई थी ?? यही नही क्या आरोपियों की डीएनए प्रोफाइलिंग हुई है? उन्होंने सवाल उठाया कि यदि आई.जी एवं सीएमओ ने अपनी जांच के दौरान निर्देशित स्टैंडर्ड आपरेटिंग प्रोसिडर फॉलो नहीं किया, तो इसका जवाबदेह कौन होगा?

यह बड़ा सवाल !और निष्पक्ष जांच पूरी कैसे होगी यह संशय के घेरे में है।

Updated : 11 Jun 2021 4:12 AM GMT

शाहिद नकवी

वरिष्ठ पत्रकार एवं लेखक प्रयागराज। पूर्व कमेंटेटर आकाशवाणी रीवा - क्रिकेट और फुटबॉल, पूर्व अध्यक्ष खेल पत्रकार संघ।


Next Story
Share it
Top