Top
Home > खेल > क्रिकेट > आईपीएल 2019: धोनी की आतिशी पारी और चेन्नई ने बनाई जीत की हैट्रिक

आईपीएल 2019: धोनी की आतिशी पारी और चेन्नई ने बनाई जीत की हैट्रिक

आईपीएल 2019: धोनी की आतिशी पारी और चेन्नई ने बनाई जीत की हैट्रिक
X

चेन्नई: एमएस धोनी के आलोचक ही नहीं, प्रशंसक भी यह मानने लगे हैं कि अब यह क्रिकेटर पहले जैसे तूफानी नहीं कर पाता. अब धोनी किसी को अपनी राय बदलने को क्यों कहें? लेकिन इतिहास गवाह है कि धोनी अपने खेल और फैसलों से सबको चौंकाते रहे हैं. उन्होंने इंडियन टी20 लीग (आईपीएल) में रविवार को राजस्थान के खिलाफ भी एक ऐसी ही पारी खेली, जो लोगों को उनके बारे में फिर से सोचने को मजबूर कर गई.

चेन्नई के 37 साल के कप्तान ने इस मैच में 75 रन बनाए और अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई. चेन्नई ने राजस्थान को इस मैच में 8 रन से हराया. यह आईपीएल (IPL 2019) में उसकी लगातार तीसरी जीत है. उसके अलावा कोई भी टीम मौजूदा सीजन में तीन मैच नहीं जीत सकी है. दूसरी ओर राजस्थान को लगातार तीसरे मैच में हार का सामना करना पड़ा. बेंगलुरू की टीम भी लगातार तीन मैच हार चुकी है.

यह पहला मौका नहीं है जब किसी बल्लेबाज ने आईपीएल (IPL 2019) में 75 रन बनाए हैं. लेकिन धोनी ने जिस अंदाज में ये रन बनाए, उसकी कहानी बड़ी दिलचस्प है. चेन्नई की टीम ने एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए मैच में जल्दी-जल्दी विकेट गंवाए. 27 रन पर तीसरा और 88 रन पर चौथा विकेट गंवाने वाली इस टीम ने 17 ओवर की समाप्ति तक चार विकेट पर 115 रन बनाए थे. तब लग रहा था कि यह टीम मुश्किल से 150 रन बना पाएगी. लेकिन एमएस धोनी ने आखिरी ओवरों में तूफानी पारी खेलकर अपनी टीम को 175 रन तक पहुंचा दिया.

एमएस धोनी ने 46 गेंदों पर 75 रन बनाए. इसमें चार चौके और इतने ही छक्के शामिल हैं. वे एक समय 38 गेंद पर 49 रन बनाकर खेल रहे थे. धोनी ने इसके बाद अगले आठ गेंद पर 26 रन ठोक दिए और खुद का स्कोर 75 और टीम का स्कोर 175 रन पहुंचा दिया. चेन्नई के लिए सुरेश रैना ने 32 गेंद पर 36 और ड्वेन ब्रावो ने 16 गेंद पर 27 रन बनाए.

टी20 मैच में 176 के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोई टीम जब 14 रन पहुंचने तक तीन विकेट गंवा दे तो उसके प्रशंसक भी जीत की उम्मीद छोड़ बैठते हैं. हालांकि, इस मैच को देखकर ऐसा नहीं कहा जा सकता. राजस्थान ने 14 रन पर तीन विकेट गंवाने के बाद भी अच्छा प्रदर्शन किया. एक सम उसे जीत के लिए आखिरी ओवर में 12 रन चाहिए थे और उसके चार विकेट बाकी थे. बेन स्टोक्स 46 रन बनाकर क्रीज पर थे. लेकिन आखिरी ओवर में सब खेल बदल गया. ड्वेन ब्रावो ने इस ओवर में सिर्फ तीन रन दिए और दो विकेट भी झटक लिए. इस तरह राजस्थान की टीम लक्ष्य से 9 रन दूर रह गई.

Updated : 31 March 2019 9:43 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top