Top
Home > खेल > क्रिकेट > टीम इंडिया की श्रीलंका के खिलाफ ऐतिहासिक जीत, देश से बाहर टेस्ट सीरीज की व्हाइटवाश

टीम इंडिया की श्रीलंका के खिलाफ ऐतिहासिक जीत, देश से बाहर टेस्ट सीरीज की व्हाइटवाश

टीम इंडिया की श्रीलंका के खिलाफ ऐतिहासिक जीत, देश से बाहर टेस्ट सीरीज की व्हाइटवाश
X

मेहमान भारतीय टीम अब सीरीज़ के तीसरे टेस्ट मैच में मेज़बान श्रीलंका को पारी और 171 रन से हरा दिया है. यह भारतीय टीम द्वारा विदेशी धरती पर तीन टेस्ट मैचों की किसी सीरीज़ को पूरी तरह वाइटवॉश कर डालने, यानी 3-0 से जीतने का पहला मौका है. खेल के तीसरे दिन फॉलोऑन खेलती श्रीलंकाई टीम के तीन विकेट पहले ही सत्र में आउट हो गए थे, जिनसे उनका संकट गहरा गया है. भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाजों ने एक बार फिर अपने दमदार प्रदर्शन से पल्लेकेले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में जारी तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन सोमवार को भोजनकाल तक श्रीलंका को कमजोर कर दिया. पहले सत्र की समाप्ति तक फॉलोऑन खेल रही उतरी श्रीलंका की टीम चार विकेट के नुकसान पर केवल 82 रन ही बना पाई. रविचंद्रन अश्विन ने दिमुथ करुणारत्ने को 16 के निजी स्कोर पर पैवेलियन भेजा था, और पिच पर उतरे कुशल मेंडिस अभी टिक भी नहीं पाए थे कि पुष्पकुमारा को मोहम्मद शामी ने विकेट के पीछे ऋद्धिमान साहा के हाथों लपकवा दिया. इसके बाद जल्द ही कुशल मेंडिस को भी शामी ने पगबाधा आउट कर वापस भेज दिया. दिन का खेल शुरु होने के वक्त तीन टेस्ट मैचों की साराज़ में वाइटवॉश करने, यानी 3-0 से मेज़बानों को हराने के लिए टीम इंडिया को सिर्फ 9 विकेट चटकाने बाकी थे, और अब लग रहा है कि सीरीज़ का आखिरी टेस्ट मैच खेल के तीसरे दिन ही खत्म हो जाएगा. भारतीय बल्लेबाज़ों के शानदार प्रदर्शन, और खासतौर से हार्दिक पंड्या के चौकों-छक्कों से सजे बेहतरीन शतक की बदौलत टीम इंडिया ने पहली पारी में 487 रन बनाए थे, जिनके जवाब में श्रीलंकाई टीम पहली पारी में सिर्फ 37.4 ओवरों में 135 रन पर सिमट गई. भारतीय गेंदबाज़ों में कुलदीप यादव ने चार, रविचंद्रन अश्विन और मोहम्मद शामी ने दो-दो विकेट चटकाए, तथा हार्दिक पंड्या ने एक मेज़बान खिलाड़ी को पैवेलियन लौटाया. इसके बाद फॉलोऑन खेलते हुए श्रीलंकाई टीम ने सलामी बल्लेबाज़ उपुल तरंगा के रूप में अपना पहला विकेट फिर जल्दी गंवा दिया, और स्टम्प्स के समय मेज़बान टीम एक विकेट के नुकसान पर 19 रन बनाकर पारी की हार से बचने के लिए संघर्ष कर रही थी.

Updated : 14 Aug 2017 9:42 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top