Top
Home > खेल > क्रिकेट > भारतीय टीम को टेस्ट में एक महाशक्ति बनाना चाहते हैं विराट

भारतीय टीम को टेस्ट में एक महाशक्ति बनाना चाहते हैं विराट

भारतीय टीम को टेस्ट में एक महाशक्ति बनाना चाहते हैं विराट
X

ऐडिलेड: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली टेस्ट प्रारूप में भारत को एक प्रकार की महाशक्ति बनाना चाहते हैं। कोहली ने साथ ही कहा कि उनके लिए टेस्ट क्रिकेट हमेशा ही पहली प्राथमिकता रहेगी और अगर भारतीय क्रिकेट में इसे सम्मान मिलता है तो क्रिकेट का यह प्रारूप हमेशा ही नंबर एक पर रहेगा। कोहली की कप्तानी में ही भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीती है।
विराट ने कहा, 'मैं इसे लक्ष्य नहीं बल्कि विजन कहूंगा। मैं भारत को टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़ी ताकत बनते देखना चाहता हूं। मुझे लगता है कि भारतीय क्रिकेट टेस्ट क्रिकेट का सम्मान करती है और भारतीय खिलाड़ी भी इसे इज्जत देते हैं तो टेस्ट क्रिकेट हमेशा ही शीर्ष पर रहेगा।'
कोहली ने कहा, 'छोटा प्रारुप क्रिकेट की लोकप्रियता के लिए जरूरी हैं लेकिन सिर्फ उन्हीं पर ध्यान दिया जाता है और उनका नाम लेकर टेस्ट क्रिकेट से बचने की कोशिश की जाती है तो आने वाले खिलाड़ियों को परेशानी हो सकती है।' कोहली ने कोच रवि शास्त्री को लेकर कहा कि वह हमेशा पूरी ईमानदारी से उनके सामने बात रखते हैं। साथ ही कहा कि जब से शास्त्री आए हैं तब से वह मुझे पूरी ईमानदारी फीडबैक देते हैं। मुझे याद है कि जब इंग्लैंड के खिलाफ मैंने एक ही मैच में शतक और अर्धशतक जमाया था तब उन्हें मुझसे कहा था कि तुम्हारी बल्लेबाजी के बारे में मुझे कुछ नहीं कहना, पर कप्तानी के बारे में हमें बात करनी होगी कि कैसे खिलाड़ियों से उनका सर्वश्रेष्ठ निकाला जाए।'

Updated : 16 Jan 2019 7:00 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top