Top
Home > खेल > क्रिकेट > पुजारा के बाद ऋषभ के शतक से भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर शिकंजा कसा

पुजारा के बाद ऋषभ के शतक से भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर शिकंजा कसा

पुजारा के बाद ऋषभ के शतक से भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर शिकंजा कसा
X

भारत 622/7 पारी घोषित, ऑस्ट्रेलिया 22/0
सिडनी: चेतेश्वर पुजारा के 193 रनों के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत की नाबाद शतकीय पारी 159 रनों और रविन्द्र जडेजा के 81 रनों की सहायता से भारत ने मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम पर शिकंजा कस दिया है। भारतीय टीम ने चौथे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रनों का विशाल स्कोर बनाकर घोषित कर दी। इसके बाद मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम ने दिन का खेल समाप्त होने तक बिना किसी नुकसान के 24 रन बना लिए थे। हैरिस 19 और ख्वाजा क्रीज 5 रन पर खेल रहे थे। इस प्रकार मेजबान टीम अभी भी भारत से 598 रन पीछे है। अभी तीन दिनों का खेल बाकि है, ऐसे में विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम के पास ऑस्ट्रेलिया में पहली सीरीज जीतने का अच्छा मौका है। दूसरे दिन सुबह पुजारा ने 130 और हनुमा बिहारी ने 39 से आगे खेलना शुरु किया। हनुमा तीन रन बनाकर ही 42 रनों के निजी स्कोर पर स्पिनर नाथन लियोन का शिकार बने। इस प्रकार भारत का पांचवां विकेट 329 रनों के स्कोर पर गिरा। इसके बाद पुजारा और ऋषभ ने शानदार बल्लेबाजी कर स्कोर आगे बढ़ाना शुरु किया। दिन के खेल का आकर्षण ऋषभ की शतकीय पारी रही। ऋषभ ने अपनी इस आक्रामक पारी से दर्शकों का अच्छा मनोरंजन किया। वहीं पुजारा ने अपने रिकार्ड लंबी पारी से आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को कोई अवसर नहीं दिया। उन्होंने अपनी पारी में 373 गेंदें खेली तथा 22 चौके लगाये जबकि ऋषभ ने अपने टेस्ट कैरियर का दूसरा शतक लगाया। ऋषभ ने 189 गेंदों पर 15 चौकों और एक छक्के की सहायता से नाबाद 159 रन बनाकर एक ओर अहम रिकार्ड अपने नाम किया है। वह आस्ट्रेलियाई धरती पर शतक जड़ने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर बने हैं। वहीं ऑलराउंडर जडेजा ने भी अर्धशतक लगाया।
भारत का सातवां विकेट जडेजा का गिरा। जडेजा 81 रन बनाकर स्पिनर लियोन की गेंद पर आउट हुए। इसके बाद कप्तान विराट कोहली ने पारी घोषित कर दी।
वहीं पुजारा 193 रनों पर आउट होने वाले छठे बल्लेबाज रहे वह दोहरा शतक नहीं लगा पाये पर ऑस्ट्रेलियाई धरती पर सबसे अधिक गेंद खेलने वाले बल्लेबाज बन गये हैं। पुजारा 193 रन बनाकर लियोन का शिकार बन गए हैं। इससे पहले हनुमा विहारी भी लॉयन की गेंद पर ही आउट हुए थे।
पुजारा ने अपनी इस पारी के दौरान किसी श्रृंखला में सर्वाधिक गेंद खेलने के लिहाज से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। वह मौजूदा श्रृंखला में अब तक 1135 गेंद का सामना करते हुए 458 रन बना चुके हैं। इससे पहले उन्होंने 2016-17 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर ही 1049 गेंद का सामना करते हुए 405 रन बनाए थे। यह किसी श्रृंखला में पुजारा का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इससे पहले उन्होंने 2012-13 में इंग्लैंड के खिलाफ भारत में चार टेस्ट की श्रृंखला में 438 रन बनाए थे। ऑस्ट्रेलिया की ओर से लियोन ने सबसे ज्यादा चार जबकि हेजलवुड ने दो और स्टार्क ने एक विकेट लिया।

Updated : 4 Jan 2019 11:26 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top