Top
Home > खेल > क्रिकेट > सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया
X

सुबह पांच बजे शुरू होगा मैच
सिडनी: विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम गुरुवार को यहां ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट को जीतकर सीरीज अपने नाम करने उतरेगी। भारतीय टीम अभी सीरीज में 2-1 से आगे है। तीसरे टेस्ट को जीतने के बाद भारतीय टीम का मनोबल बढ़ा हुआ है। टीम के सभी तेज गेंदबाज शानदार लय में हैं। स्पिनर के तौर पर रविन्द्र जडेजा ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। अनुभवी आर अश्विन के पूरी तरह फिट नहीं होने से जडेजा को अंतिम ग्यारह में जगह मिलना तय है। जहां तक बल्लेबाजी की बात है युवा मयंक अग्रवाल पारी की शुरुआत करेंगे। मयंक ने अपने पहले ही टेस्ट में शानदार अर्धशतक लगाया था। इसके अलावा भारत की बल्लेबाजी कप्तान विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा पर आधारित रहेगी। रोहित शर्मा के स्वदेश लौटने से इस मैच लोकेश राहुल को मयंक के साथ पारी शुरु करने करने का अवसर मिल सकता है। पिछले मैच में हनुमा बिहारी ने मयंक के साथ पारी की शुरुआत की थी।
आंकड़ों पर गौर करें तो भारत का प्रदर्शन इस मैदान पर अच्छा नहीं रहा है। इस मैदान पर दोनों टीमों के बीच 11 बार मुकाबला हुआ, जिसमें भारतीय टीम एक बार भी नहीं जीत पाई है। इसमें से 5 मुकाबले बराबरी पर रहे जबकि 6 मैच ऑस्ट्रेलिया ने जीते।
वहीं दूसरी ओर मेजबान टीम किसी भी प्रकार मैच जीतकर सीरीज बराबर करना चाहेगी। टीम के पास गेंदबाज तो अच्छे हैं पर उसकी बल्लेबाजी कमजोर पड़ जाती है। कप्तान टिम पेन ने भी माना है कि स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के नहीं रहने से उसकी बल्लेबाजी कमजोर पड़ी है। साथ ही कहा था कि विराट और पुजारा ने पिछले मैच में अंतर पैदा कर दिया था उसी के कारण टीम को हार का सामना करना पड़ा।
सिडनी में पारंपरिक तौर पर स्पिनरों को सहायता मिलती आई है। ऐसे में यहां अश्विन के फिट नहीं होने की स्थिति में जडेजा को जगह मिलना तय है। जडेजा ने तीसरे तौर में शानदार गेंदबाजी करते हुए मेजबान टीम के गेंदबाजों को खास परेशान किया था। वहीं भारतीय बल्लेबाजों को ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर नाथन लियोन से सावधान रहना होगा। अब तक इस सीरीज में लियोन ने भारतीय बल्लेबाजों को खासा परेशान किया था।
इस मैच में भारत ने बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव को भी कवर के तौर पर टीम में जगह दी है। तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा के चोटिल होने के कारण उमेश यादव को जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के साथ टीम में जगह दी गई है। आलराउंडर हार्दिक पंड्या को इस मैच में शायद ही अवसर मिले।
दूसरी ओर मेजबान टीम के कप्तान टिम पेन ने कहा कि वे टीम की घोषणा करने के लिए टॉस का इंतजार करेंगे। मेजबान टीम देखना चाहती है कि भारत दो विशेषज्ञ स्पिनरों के साथ उतरता है या नहीं। भारत को श्रृंखला जीतने के लिए सिडनी में अंतिम टेस्ट को कम से कम ड्रा कराना होगा। यहां हार के बावजूद भारत बोर्डर-गावस्कर ट्राफी को बरकार रखेगा और कोहली आस्ट्रेलिया में यह उपलब्धि हासिल करने वाले गांगुली के अलावा दूसरे भारतीय कप्तान बनेंगे।
इसके अलावा सिडनी में जीत से कोहली विदेशों में जीत के मामले में गांगुली के रिकार्ड को तोड़ देंगे। गांगुली की कप्तानी में भारत ने विदेश में 28 टेस्ट में 11 जीत दर्ज की हैं। कोहली ने 24 टेस्ट में इसकी बराबरी की। ऑस्ट्रेलियाई टीम में मिशेल मार्श की जगह पीटर हैंड्सकोंब की टीम में वापसी हो सकती है। सलामी बल्लेबाज आरोन फिंच और लेग स्पिन आलराउंडर मार्नस लाबुशेन में से किसी एक को खेलने का मौका मिलेगा। अगर फिंच बाहर होते हैं तो उस्मान ख्वाजा पारी का आगाज मार्कस हैरिस के साथ करेंगे और लाबुशेन को मध्क्रम में जगह मिलेगी।
दोनो टीमें इस प्रकार हैं:
भारत (अंतिम 13): विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, हनुमा विहारी, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत, रविंद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, कुलदीप यादव और रविचंद्रन अश्विन में से।
ऑस्ट्रेलिया: टिम पेन, मार्कस हैरिस, आरोन फिंच, उस्मान ख्वाजा, ट्रेविस हेड, शान मार्श, मिशेल मार्श, नाथन लियोन, मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड, मार्नस लाबुशेन, पीटर हैंड्सकोंब और पीटर सिडल में से।

Updated : 2 Jan 2019 7:46 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top