Top
Home > खेल > क्रिकेट > मेलबर्न टेस्ट में विराट आखिर किसे सौंपेगे ओपनिंग की जिम्मेदारी

मेलबर्न टेस्ट में विराट आखिर किसे सौंपेगे ओपनिंग की जिम्मेदारी

मेलबर्न टेस्ट में विराट आखिर किसे सौंपेगे ओपनिंग की जिम्मेदारी
X

मेलबर्न: ऑस्ट्रेलिया सीरीज में मेलबर्न टेस्ट में ओपनिंग बल्लेबाजी को लेकर कप्तान विराट कोहली के सामने एक चुनौती आ गई है। दरअसल, यह पहला मौका था जब भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर किसी टेस्ट सीरीज के पहले ही मैच में जीत हासिल की। इससे उम्मीद बंधी कि ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया अपनी पहली टेस्ट सीरीज जीत के दावे को पर्थ में और पुख्ता करेगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं, ऑस्ट्रेलिया ने दूसरा मैच जीतकर सीरीज में बराबरी हासिल कर ली। दोनों ही मैचों में भारतीय ओपनर्स मुरली विजय और केएल राहुल का योगदान चिंताजनक रहा है। तीसरा टेस्ट 26 दिसंबर से मेलबर्न ग्राउंड पर शुरू होगा। भारतीय कप्तान विराट कोहली शायद ही अब इन दोनों पर भरोसा कर उन्हें एक बार फिर ओपनिंग की जिम्मेदारी सौंपें। ऐसे में टीम मैनेजमेंट को सीरीज जीतने के लिए ओपनिंग की पहेली ढूंढनी होगी। उनके सामने विकल्प के रूप में जो कुछ खिलाड़ी हो सकते हैं।
मयंक अग्रवाल को चोटिल पृथ्वी साव के बाहर होने के बाद आनन-फानन में ऑस्ट्रेलिया भेजा गया है। वह वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछली टेस्ट सीरीज में भी टीम का हिस्सा थे। मुरली और राहुल के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद संभावना है कि उन्हें टेस्ट डेब्यू का मौका मिल जाए। उन्हें मुरली के साथ ओपनिंग की जिम्मेदारी मिल सकती है। हालांकि मुरली का आत्मविश्वास अभी डिगा हुआ है। ऐसे में मयंक के लिए यह किसी चुनौती से कम नहीं होगी। मुरली और रोहित भी एक ऑप्शन हो सकते है। रोहित शर्मा को प्रमोट कर उन्हें विजय के साथ ओपनिंग के लिए भेजा जाए। रोहित को ऑस्ट्रेलिया की उछाल रास आएगी जिस पर वह शुरुआत में शॉट खेल सकते हैं। ऐडिलेड में पहले टेस्ट में वह खेले जहां उन्होंने छठे नंबर पर तेज शुरुआत की और 37 रन की अपनी पारी में तीन सिक्स लगाए थे। हालांकि रोहित को फिर से प्लेइंग इलेवन में शामिल करने की स्थिति में हनुमा विहारी को बाहर बिठाना पड़ सकता है।
वहीं, पार्थिव पटेल इस साल साउथ अफ्रीका दौरे पर भी दो टेस्ट मैचों में टीम का हिस्सा रहे। जहां तक ओपनिंग की बात है तो उन्होंने पांच मैचों में ओपनिंग की है और इसी पोजिशन पर उनका ऐवरेज भी सबसे अच्छा 53 का रहा है। अपना सर्वोच्च स्कोर 71 रन भी पार्थिव ने बतौर ओपनर ही बनाए हैं। उनकी और मुरली की लेफ्ट-राइट जम सकती है। हालांकि पार्थिव के प्लेइंग इलेवन में शामिल होने से ऋषभ पंत को बाहर बैठना पड़ सकता है। पार्थिव जहां जल्दी विकेट नहीं गंवाते वहीं मयंक लंबी पारी खेलने के लिए जाने जाते हैं। फिलहाल टीम इंडिया को जरूरत भी ऐसे ओपनर्स की है जो शुरुआती ओवर्स में तेज गेंदबाजों का हौसला पस्त करे। मयंक और पार्थिव की जोड़ी यह काम बखूबी कर सकती है। दूसरी ओर पार्थिव और रोहित दोनों अनुभवी हैं। पहले ओपनिंग भी कर चुके हैं। अगर शुरुआती ओवर में पिच से मदद मिल जाए तो फिर दोनों ही विपक्षी गेंदबाजों की बखिया उधेड़ने की कुव्वत भी रखते हैं। राइट-लेफ्ट कॉम्बिनेशन भी इनके पक्ष में है। दोनों टीम में अपनी जगह भी पक्की करनी चाहते हैं। लिहाजा, यह जोड़ी भी आजमाई जा सकती है।

Updated : 22 Dec 2018 8:21 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top