Top
Home > खेल > क्रिकेट > ऑस्ट्रेलिया दौरे में पूरी ताकत लगा देंगे इशांत

ऑस्ट्रेलिया दौरे में पूरी ताकत लगा देंगे इशांत

ऑस्ट्रेलिया दौरे में पूरी ताकत लगा देंगे इशांत
X

नई दिल्ली: टीम इंडिया के अनुभवी तेज गेंदबाज इशांत शर्मा के लिए यह आगामी ऑस्ट्रेलिया दौरा बेहद अहम है। इसमें बेहतर प्रदर्शन के लिए इशांत पूरी ताकत लगा देंगे। वर्तमानर टेस्ट टीम में इशांत 87 मैचों के साथ सबसे अनुभवी खिलाड़ी हैं और वह इससे पहले 2007-08, 2011-12 और 2014-15 में आस्ट्रेलिया का दौरा करने वाली भारतीय टीम में शामिल रहे हैं।
इंग्लैंड दौरे के बाद दो महीने में अपना पहला प्रतिस्पर्धी मैच खेलने के बाद इशांत ने कहा, ''मैं हमेशा अपना सब कुछ झोंक देता हूं क्योंकि जब आप देश के लिए खेल रहे होते हो तो आप दूसरे मौके के बारे में नहीं सोच सकते। मैं अभी 30 साल का हूं। मुझे नहीं पता कि मैं अगले दौरे के लिए टीम में रहूंगा कि नहीं क्योंकि तब मैं 34 साल का हो जाऊंगा। इस दौरे पर मैं अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करूंगा।'' इंग्लैंड दौरे पर पांच टेस्ट में इशांत ने 18 विकेट देने के साथ ही शानदार गेंदबाजी की थी। इशांत का मानना है कि वह अब अधिक परिपक्व हो गए हैं और उन्हें अपने पिछले अनुभवों का लाभ मिलेगा।
87 टेस्ट में 256 विकेट लेने वाले इशांत ने कहा, ''मैं अब परिपक्व हूं और मुझे पता है कि क्षेत्ररक्षकों को कहां लगाना है और कैसे परिस्थितियों के अनुसार गेंदबाजी करनी है। जब आपकी उम्र बढऩे लगती है तो शरीर को भी नुकसान पहुंचने लगता है। यह सब मानसिक स्थिति से जुड़ा है। अगर आप फिट हैं और आपकी मानसिक स्थिति अच्छी है तो आप कह सकते हैं कि आप अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं।'' कप्तान कोहली (73 मैच) से भी अधिक टेस्ट खेलने वाले इशांत का लक्ष्य अगली पंक्ति के तेज गेंदबाजों को इस तरह से मेंटर करना है कि वे भी कुछ वर्षों में अन्य तेज गेंदबाजों के साथ अपनी विशेषज्ञता साझा कर सकें। उन्होंने कहा, ''मैं अपना अनुभव साझा करता हूं, मेरे कहने का मतलब है कि मेरे पास जो भी अनुभव है उसे बांटता हूं। मैं क्षेत्ररक्षण सजा सकता हूं और उन्हें बता सकता हूं कि किसी निश्चित विकेट पर किस तरह की गेंदबाजी करनी है। युवा तेज गेंदबाजों को भी सीनियर बनने के बाद जूनियर गेंदबाजों का मार्गदर्शन करना चाहिए।'

Updated : 16 Nov 2018 7:31 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top