Top
Home > खेल > क्रिकेट > चयन समिति के अध्यक्ष पर बरसे हरभजन, वेंगसरकार

चयन समिति के अध्यक्ष पर बरसे हरभजन, वेंगसरकार

चयन समिति के अध्यक्ष पर बरसे हरभजन, वेंगसरकार
X

चयन मापदंड समझ से परे
मुम्बई:ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और पूर्व कप्तान दिलीप वेंगसरकर ने एमएसके प्रसाद के नेतृत्व वाली चयन समिति पर सवाल उठाये हैं। इन दोनो दिग्गजों ने कहा कि राष्ट्रीय टीम चयन के मापदंड समझ से परे हैं। चयनकर्ताओं ने अफगानिस्तान और इंग्लैंड के खिलाफ टीम का हिस्सा रहे करुण नायर को लगातार छह मैचों में अंतिम 11 में मौका मिले बिना वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के लिए शामिल न करने पर हैरानी जताई है। हरभजन ने कहा, '' यह ऐसा रहस्य है जिसे हल करने की जरूरत है। तीन महीने तक बेंच पर बैठा खिलाड़ी इतना बेकार कैसे हो सकता है कि वह टीम में बने रहने के लायक भी नहीं है।'' इस गेंदबाज ने कहा, ''यकीन मानिए, राष्ट्रीय टीम के चयन के लिए यह चयन समिति जिस तरह का मापदंड अपना रही है उससे मुझे उनकी सोच पर तरस आता है।''
टर्बनेटर के नाम से पहचाने जाने वाले इस खिलाड़ी ने कहा कि वह नायर के दर्द को समझ सकते हैं जो टेस्ट क्रिकेट में वीरेन्द्र सहवाग के बाद तिहरा शतक लगाने वाले सिर्फ दूसरे भारतीय हैं। उन्होंने कहा, '' मुझे लगता है कि अलग-अलग खिलाड़ियों के चयन के लिए अलग-अलग पैमाना अपनाया जा रहा है। कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्हें सफल होने के लिए कई मौके दिये जाते हैं जबकि दूसरों को असफल होने के लिए भी मौका नहीं मिल रहा है। यह सही नहीं है।''हरभजन ने सवाल किया, '' अगर हनुमा विहारी वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला में सफल नहीं होते है तो आप क्या करेंगे? किसी भी खिलाड़ी के लिए हालांकि मैं ऐसा नहीं चाहूंगा। मेरी शुभकामनाएं विहारी के साथ हैं।''
उन्होंने कहा, '' अगर विहारी सफल नहीं होते हैं तो क्या फिर से नायर को चुना जाएगा, ऐसे में क्या वह ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए आत्मविश्वास से भरे होंगे।''उन्होंने उम्मीद जतायी कि ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले टीम चयन से जुड़े सभी लोग सुधार करेंगे।
वेस्टइंडीज के खिलाफ 4 अक्टूबर से शुरु हो रही दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम में करुण नायर का चयन नहीं किए जाने से बीसीसीआई के पूर्व मुख्य चयनकर्ता दिलीप वेंगसरकर भी आश्चर्यचकित हैं। वेंगसरकर को लगता है कि एक ऐसा युवा बल्लेबाज जिसने इंग्लैंड जैसी मजबूत टीम के खिलाफ तिहरा शतक जड़ा हो, उसे टेस्ट टीम में नहीं चुनकर चयनकर्ता ज्यादती कर रहे हैं। वेंगसरकर ने मुख्यचयनकर्ता प्रसाद के इस निर्णय पर हैरानी जाहिर की है और कहा कि उनके चयन मापदंड सही नहीं हैं।

Updated : 2 Oct 2018 9:03 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top