प्राग: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने रविवार को यहां भारतीय समुदाय के सदस्यों से मुलाकात की और उनके साथ चेक गणराज्य के घटनाक्रम और द्विपक्षीय संबंधों की स्थिति पर चर्चा की।


जयशंकर मध्य यूरोप के दो देशों, स्लोवाकिया और चेक गणराज्य के साथ संबंधों को और गति देने के लिए अपने दौरे के अंतिम चरण में प्राग पहुंचे हैं।


जयशंकर ने ट्वीट किया, ‘‘प्राग में भारतीय समुदाय से मिलकर काफी खुशी हुई। उनमें से कई को अपने जीवन में बेहतर करते देखकर काफी अच्छा लगा। यहां समुदाय का विस्तार भी प्रेरणादायक है। उनके साथ घरेलू घटनाक्रम और द्विपक्षीय संबंधों की स्थिति पर चर्चा की। उनके निरंतर समर्थन पर भरोसा है।’’


विदेश मंत्री स्लोवाकिया की राजधानी ब्रातिस्लावा से शनिवार को प्राग पहुंचे थे।


जयशंकर ने रविवार को चेक गणराज्य के वित्त मंत्री से भी मुलाकात की थी। चेक गणराज्य एक जुलाई से यूरोपीय संघ (ईयू) की अध्यक्षता संभालेगा।


आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, चेक गणराज्य में करीब 5,000 भारतीय नागरिक बसे हैं, जिनमें से अधिकतर आईटी पेशेवर, व्यवसायी और छात्र हैं। यहां भारतीयों/भारतीय मूल के लोगों के कई अनौपचारिक संघ हैं, जो दूतावास के सहयोग से सामुदायिक कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं।


जयशंकर की यात्रा ऐसे समय में हो रही है, जब यूरोप यूक्रेन पर रूसी आक्रमण के प्रभावों से जूझ रहा है और यूरोपीय देश भारत को लगातार रूस के कदमों को लेकर एक सटीक रुख अपनाने के लिए मनाने की कोशिश कर रहे हैं।

—भाषा



Related news