अहमदाबाद: कभी देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहनसिंह ने कहा था कि देश के संसाधनों पर पहला अधिकार मुस्लिमों का है| डॉ. मनमोहनसिंह की इस बात को गुजरात प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख जगदीश ठाकोर ने दोहराया है| अहमदाबाद में आयोजित सद्भावना कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जगदीश ठाकोर ने कहा कि देश के संसाधनों पर मुसलमानों का पहला हक है और कांग्रेस आज भी इसी विचारधारा का पालन करती है| बता दें कि गुजरात विधानसभा के इसी साल दिसंबर में चुनाव होने वाले हैं और जगदीश ठाकोर का यह बयान कांग्रेस के लिए मुश्किलें बढ़ा सकता है| लेकिन वाहवाही लूटने की कोशिश में जगदीश ठाकोर भूल गए कि वह क्या कह रहे हैं और आगामी चुनाव में इसका क्या असर हो सकता है| जगदीश ठाकोर अकेले ऐसे नेता नहीं हैं जो चुनावी फायदे के लिए बिना सोचे समझे बगैर बयानबाजी कर जाते हैं| कांग्रेस, भाजपा समेत अन्य राजनीतिक दलों में ऐसे कई नेता हैं, जिनके बयान से उनकी पार्टी को ही नुकसान हुआ है| ऐसी बयानबाजी से फौरी तौर पर वाहवाही जरूर मिल जाती है, परंतु नतीजे विपरीत आते हैं| जगदीश ठाकोर की बात सुनकर सभा में मौजूद मुस्लिम समुदाय के लोग खुशी से झूम उठे और तालियों की गड़गड़ाहट शुरू हो गई| गुजरात कांग्रेस के प्रमुख जगदीश ठाकोर ने कहा कि राज्य में अल्पसंख्यक समुदाय के 20 हजार से ज्यादा वोट वाली 60 से ज्यादा सीटें हैं और कांग्रेस इन सभी सीटों पर ऐसा कार्यक्रम आयोजित करने जा रही है| जगदीश ठाकोर ने गुजरात के मुस्लिमों का घर देने का वादा करते हुए कहा कि अहमदाबाद में जहां भी अल्पसंख्यक इलाकों में झुग्गियां हैं और जिन इलाकों की हालत खराब है, उनका नाम लिखिए और आगामी चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनाइए| ठाकोर ने स्पष्ट किया कि डॉ. मनमोहनसिंह के बयान से भले ही पार्टी को नुकसान पहुंचा हो, लेकिन वे उसी विचारधारा से जुड़े हुए हैं| 



Related news