नई दिल्‍ली: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को बड़े अंतर से हराकर देश की 15वीं राष्ट्रपति बन गई हैं। इस जीत के बाद द्रौपदी मुर्मू को बधाई देने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके घर पहुंचे। उनके साथ बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी थे। दोनों ने द्रौपदी मुर्मू को शुभकामनाएं दी। द्रौपदी मुर्मू देश की पहली महिला आदिवासी राष्‍ट्रपति बनी हैं। तीसरे राउंड के बाद ही उन्होंने 50 फीसदी के आंकड़े को पार कर लिया। इस जीत के बाद उनके गृह राज्य ओडिशा सहित पूरे देश में जश्न मनाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट कर के भी द्रौपदी मुर्मू को बधाई दी। उन्होंने लिखा, 'भारत ने इतिहास रचा है। ऐसे समय में जब 1।3 अरब भारतीय आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं, पूर्वी भारत के एक सुदूर हिस्से में पैदा हुई एक आदिवासी समुदाय की भारत की बेटी को हमारा राष्ट्रपति चुना गया है! इस उपलब्धि पर श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को बधाई।"

गृहमंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को बधाई दी। उन्होंने कहा, "एक अति सामान्य जनजातीय परिवार से आने वाली एनडीए प्रत्याशी श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी का भारत का राष्ट्रपति चुना जाना पूरे देश के लिए अत्यंत गौरव का पल है, उन्हें बधाई देता हूं। यह विजय अन्त्योदय के संकल्प को चरितार्थ करने व जनजातीय समाज के सशक्तिकरण की दिशा में एक मील का पत्थर है।"

वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी द्रौपदी मुर्मू को बधाई दी। उन्होंने कहा, "श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को भारत के 15वें राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।" भारत का राष्ट्रपति राष्ट्राध्यक्ष होने के साथ-साथ भारतीय सशस्त्र सेनाओं का सुप्रीम कमांडर और देश का पहला नागरिक भी होता है। द्रौपदी देश की दूसरी महिला राष्‍ट्रपति हैं, उनसे पहले प्रतिभा पाटिल देश का राष्‍ट्रपति पद संभाल चुकी हैं।

राष्‍ट्रपति चुनाव में 17 सांसदों ने एनडीए की प्रत्‍याशी द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में क्रॉस वोटिंग की। नतीजों की औपचारिक घोषणा के पहले ही द्रौपदी मुर्मू के गृहराज्‍य ओडिशा और उनके गृहनगर में उनकी जीत का जश्‍न मनना शुरू हो गया। द्रौपदी मुर्मू की जीत के बाद दिल्‍ली स्थित बीजेपी मुख्‍यालय के बाहर भी बड़ी संख्‍या में लोग एकत्रित हो गए और जश्न मनाया।



Related news