रायपुर: झारखंड के सत्ताधारी महागठबंधन के विधायक छत्तीसगढ़ लाये गए हैं। 32 विधायकों को रायपुर लाया गया है। दोहरे लाभ के मामले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की विधानसभा सदस्यता खतरे में पड़ जाने के बाद से झारखंड में राजनीतिक संकट बना हुआ है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सत्ताधारी महागठबंधन के विधायकों में तोड़फोड़ की आशंका से परेशान हैं। वे सत्ताधारी महा गठबंधन के विधायकों को अपनी आंखों से ओझल नहीं होने देना चाहते। झारखंड की सोरेन सरकार के विधायकों को रांची से विशेष उड़ान से रायपुर लाया गया है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सहित सभी विधायकों को दो बसों में लेकर रायपुर विमानतल से मेफेयर रिसॉर्ट लाया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक इन विधायकों में झामुमो के 19, कांग्रेस के 12 और राजद के 1 सहित 32 विधायक शामिल बताये जा रहे हैं। इससे पहले झारखंड के सत्ताधारी महागठबंधन के विधायकों को सीएम सोरेन झारखंड के पर्यटन स्थलों की सैर करा रहे थे। इन्हें संभावित तोड़फोड़ से बचाने अब छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर लाया गया है।



Related news