हरिद्वार (दैनिक हाक): मुख्य विकास अधिकारी ने अधिकारियों को विद्यालयों व आंगनबाड़ी केन्द्रों में पेयजल व विद्युत सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। जिला कार्यालय सभागार में समग्र शिक्षा अभियान के तहत गठित जिला स्तरीय शिक्षा परियोजना समिति की बैठक में डीपीआरओ व शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन ने कहा कि जनपद के सभी विद्यालयों व आंगनबाड़ी केन्द्रों को जल जीवन मिशन से आच्छादित किया जाना है। इसके लिए पंचायतों की बैठक में प्रस्ताव लाया जाए। उन्होने मुख्य शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि आगामी 10 दिन के भीतर ऐसे विद्यालयों की सूची उपलब्ध करायें जिसे जल जीवन मिशन से आच्छादिन नहीं किया गया है व अब तक नलों में पानी की अपूर्ति नहीं हो पायी है। 

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि विभिन्न सोशल मीडिया माध्यमों के बावजूद विद्यालय स्तर से किसी भी सूचना का संकलन करने में अपेक्षा से अधिक समय लग रहा है। जिस कारण योजनाओं के क्रियान्वयन सहित अन्य महत्वपूर्ण कार्यो को समय सीमा के भीतर पूरा करने में दिक्कतें पेश आती है। उन्होने शिक्षा विभाग के जिला स्तरीय, ब्लॉक स्तरीय व विद्यालय स्तरीय अधिकारियों, प्रधानाचार्यो के बीच सूचनाओं के आदान-प्रदान के चैनल को व्यवस्थित करने के निर्देश भी दिए, ताकि विद्यालय स्तर की गतिविधियों की रिर्पोट त्वरित गति से प्राप्त हो सके। समग्र शिक्षा अभियान के सब-कम्पोनेन्ट स्पोर्टस एवं फिजिकल एजूकेशन के तहत प्राथमिक विद्यालयों को खेल के साजो सामान के लिए प्रतिवर्ष मिलने वाली 5 हजार रुपये की धनराशि का शत प्रतिशत सदुपयोग करने के निर्देश भी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिये हैं। सीडीओ ने कहा कि विगत निरीक्षणों में पया गया कि खरीदा गया खेल का सामान बक्से में ही पड़े रहने के कारण खराब हो जाता है। मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता ने बताया कि जनपद में कुल 2320 सरकारी व गैर सरकारी विद्यालय शामिल है। जिसमें 2,56,283 बालक व 2,25,155 बालिकाओं सहित कुल 4,81,438 छात्र अघ्ययनरत है। उन्होने वित्तीय वर्ष 2022-23 में अनुमोदित विभिन्न गतिविधियों हेतु अवमुक्त 25 करोड़ 84 लाख से किये गये भौतिक कार्यो एक्सेस एण्ट रिटेन्शन, विद्यालयों का सुदृढ़ीकरण, निशुल्क पाठ्य पुस्तक 12 1(सी) के अन्तर्गत प्रतिपूर्ति, विद्यालय से बाहर रह गये बच्चों हेतु गैर आवासीय विशिष्ट प्रशिक्षण, विद्यालय अनुदान, पुस्तकालय अनुदान आदि की प्रगति से मुख्य विकास अधिकारी को अवगत कराया। बैठक में जिला शिक्षाधिकारी एसपी सेमवाल, सहायक विद्यालय लेखा अधिकारी माया देवी, जिला पंचायतराज अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुलेखा सहगल, डीपीआरओ अतुल प्रताप सहित शिक्षा विभाग के विकास खण्ड स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।






Related news