रूद्रपुरः खटीमा थाना क्षेत्र के जंगलों में सोमवार को युवक की जो लाश मिली थी, उस मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने युवक की हत्या के मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिसमें से दो आरोपी पंजाब के बदमाश हैं। आरोपियों ने धारदार हथियार से गला रेतकर युवक की हत्या की थी। उधमसिंह नगर एसएसपी मंजू नाथ टीसी मंगलवार को मामले का खुलासा किया। उधमसिंह नगर एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि 2 मई को पुलिस को सूचना मिली थी कि खटीमा थाना क्षेत्र के जंगल में एक युवक की लाश पड़ी हुई है। पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और मामले की जांच पड़ताल शुरू की।

मृतक की शिनाख्त आरिफ निवासी जमौर खटीमा के रूप में हुई। जिस स्थान पर युवक की लाश मिली थी, वहीं से कुछ दूरी पर आरिफ की बाइक भी बरामद की गई थी। आरिफ का गला किसी धारदार हथियार से रेता गया था। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। उसी के आधार पर पुलिस आरोपियों तक पहुंची। सोमवार देर रात को ही पुलिस ने आजाद निवासी जमौर के घर दबिश और उसे गिरफ्तार किया। पहले तो आजाद ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन बाद में जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो वो टूट गया और सारा सच पुलिस के सामने उगल दिया। आजाद ने बताया कि वो आरिफ से लड़की को लेकर रंजिश रखने लगा था। लड़की की वजह से पहले ही दोनों के बीच बहस हो चुकी थी। इस दौरान उसकी मुलाकात खटीमा निवासी सुखविंदर सिंह उर्फ सुख्खा से हुई। आरिफ के मुताबिक सुखविंदर सिंह ने उससे कहा कि पंजाब के दो बदमाश आशीष सिंह और विजय सिंह उसके घर में रुके हुए हैं, जो आरिफ को ठिकाने लगाने में मदद करेंगे। 1 मई की शाम को आरोपी आजाद अपने साथियों को लेकर आरिफ के पास पहुंचा और खाने पीने के लिए उसे जंगल किनारे ले गया. यहां सभी ने पहले खूब शराब पी और उसके बाद आरिफ की पाठल से गला रेत कर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपियों ने आरिफ की बाइक पुल से नीचे फेंक दी थी। आरिफ की जानकारी के आधार पर ही पुलिस ने तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त पाठल, मृतक की बाइक और खून से सने कपड़े बरामद किए हैं. अभी पुलिस पंजाब के बदमाशों का आपराधिक इतिहास खंगाल रही है।



Related news