दोहा: दिग्गज खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो की अगुआई में पुर्तगाल ने 15 मिनट में दागे तीन गोल की बदौलत फीफा विश्व कप के ग्रुप एच मैच में गुरुवार को यहां धीमी शुरुआत से उबरते हुए घाना को 3-2 से हराकर अपने अभियान की शुरुआत जीत के साथ की।


फुटबॉल में कई रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले रोनाल्डो इसके साथ ही पांच अलग-अलग विश्व कप में गोल दागने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी भी बन गए।.


स्टेडियम 974 में दुनिया की नौवें नंबर की टीम को कप्तान रोनाल्डो ने 65वें मिनट में बढ़त दिलाई जिसके बाद जाओ फेलिक्स (78वें मिनट) और राफेल लियाओ (80वें मिनट) ने भी पुर्तगाल की ओर से गोल दागे।


घाना की ओर से कप्तान आंद्रे आयेव (73वें मिनट) और उस्मान बुखारी (89वें मिनट) ने गोल किए।


दुनिया की 61वें नंबर की टीम घाना के खिलाफ पुर्तगाल की जीत का अंतर और अधिक हो सकता था लेकिन मैच के शुरुआती एक घंटे में अधिकांश समय रोनाल्डो, बर्नांडो सिल्वा और ब्रूनो फर्नांडिस की तिकड़ी ने निराश किया।


पुर्तगाल के खिलाड़ियों की फिनिशिंग में भी कमी दिखी। घाना के खिलाड़ियों की मैच में काफी गलतियों के बावजूद पुर्तगाल के फारवर्ड इसका फायदा उठाने में नाकाम रहे।


पुर्तगाल ने मुकाबले में अच्छी शुरुआत की और पहले 10 मिनट में कुछ अच्छे मूव बनाए लेकिन उसके फारवर्ड घाना की रक्षापंक्ति को भेदने में नाकाम रहे।


रोनाल्डो के पास 10वें मिनट में गोल करने का सुनहरा मौका था लेकिन घाना के गोलकीपर लॉरेंस एटीजिगी ने फुर्ती दिखाते हुए उनके शॉट मारने से पहले ही गेंद को उनके कब्जे से दूर कर दिया। रोनाल्डो को तीन मिनट बाद एक और मौका मिला लेकिन इस बार भी वह हैडर से गेंद को गोल के अंदर डालने में नाकाम रहे।


पहले हाफ में हालांकि अधिकतर खेल घाना के हाफ में ही खेला गया। लगातार दबाव के बीच धीरे-धीरे घाना का डिफेंस बिखरता नजर आ रहा था। रोनाल्डो ने 31वें मिनट में गेंद को गोल में डाला लेकिन इससे पहले उन्होंने विरोधी खिलाड़ी को गिराकर फाउल कर दिया और रैफरी ने इस गोल को नकार दिया।


पुर्तगाल ने 42वें मिनट में एक और मूव बनाया। इस बार रोनाल्डो के ऊपर से पास राफेल गुइरेरो के पास पहुंचा। गुइरेरो ने शॉट मारा लेकिन यह रोनाल्डो से टकरा गया। रोनाल्डो भी गेंद को कब्जे में लेकर गोल करने में नाकाम रहे।


पहले हाफ में पुर्तगाल ने 70 प्रतिशत समय गेंद को अपने कब्जे में रखा और इस दौरान कुछ अच्छे मौके भी बनाए लेकिन फिनिशिंग की कमी के कारण टीम बढ़त नहीं बना सकी।


दूसरे हाफ में भी घना के डिफेंस ने पुर्तगाल के फारवर्ड को लगातार परेशान किया। मैच के 53वें मिनट में रोनाल्डो के पास गोल करने का एक और अच्छा मौका था। वह गेंद को अपने कब्जे में लेकर सबसे आगे चल रहे थे लेकिन घाना के गोलकीपर को छकाने में नाकाम रहे।


घाना ने अगले ही मिनट में पलटवार करते हुए मूव बनाया। अलिदू साइडू गेंद को लेकर आगे बढ़े और बाएं पैर से दनदनाता हुआ शॉट लगाया लेकिन गेंद पुर्तगाल के गोलकीपर डियोगो कोस्टा के बाईं ओर से बाहर निकल गई।


मोहम्मद सलीसू ने 62वें मिनट में पेनल्टी बॉक्स के अंदर रोनाल्डो को गिराकर फाउल किया और रैफरी ने पुर्तगाल को पेनल्टी दी। रोनाल्डो ने इसके बाद एटीजिगी के दाईं ओर से गेंद को गोल में पहुंचाकर पुर्तगाल को 1-0 से आगे कर दिया।


घाना ने इसके बाद हमले तेज किए। मोहम्मद कुडुस के 72वें मिनट में लगाए तेजतर्रार शॉट को पुर्तगाल के गोलकीपर ने रोक दिया।


अगले ही मिनट में पुर्तगाल की डिफेंस की गलती से पेनल्टी बॉक्स के अंदर गेंद कुडुस के पास पहुंची और उन्होंने गोलमुख के सामने इसे कप्तान आंद्रे आयेव की ओर बढ़ाया जिन्होंने इसे गोल में डाल दिया। यह मौजूदा विश्व कप में अफ्रीका की किसी टीम का पहला गोल है।


घाना का जश्न अभी खत्म भी नहीं हुआ था कि पांच मिनट बाद ब्रूनो फर्नांडिज के पास पर जाओ फेलिक्स ने दाएं छोर से गोल दाग दिया।


दो मिनट के बाद फर्नांडिज एक बार फिर गेंद लेकर आगे बढ़े और इस बार उन्होंने इसे बाएं छोर पर स्थानापन्न खिलाड़ी राफेल लियाओ की ओर बढ़ाया जिन्होंने टीम को 3-1 से आगे कर दिया।


रोनाल्डो को 83वें मिनट में एक और गोल करने का स्वर्णिम मौका मिला। उन्हें सिर्फ एटीजिगी को पछाड़ना था लेकिन वह आगे बढ़ते हुए गोलकीपर के हाथों में सीधा शॉट मार गए।


बुखारी ने 89वें मिनट में बाएं छोर से मिले पास पर हैडर से गोल दागकर पुर्तगाल की बढ़त को कम किया और घाना की मैच ड्रॉ कराने की उम्मीद जगाई लेकिन रोनाल्डो की टीम अंतत: बढ़त बरकरार रखते हुए जीत दर्ज करने में सफल रही।


—भाषा 






Related news