पटना: बिहार के सीमवर्ती जिले पूर्णिया के दौरे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह हैं। सीमांचल क्षेत्र में दो दिन के लिए आए अमित शाह शुक्रवार को पूर्णिया पहुंचे और नीतीश-तेजस्वी सरकार पर जमकर बरसे। पूर्णिया में भाजपा की जनभावना रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने ‘भारत माता की जय’ का नारा लगवाया और भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि लालू के पेट में दर्द समझ आ रहा है, मगर आपका जोश कहां गायब है? जनभावना रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि आज राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की जयंती है और मैं उन्हें प्रणाम करता हूं। दिनकर जी की कविताओं ने न केवल आजादी के आंदोलन को धार दी, उनकी लेखनी ने भारतीय संस्कृति को मजबूती प्रदान करने का काम किया।

अमित शाह ने कहा कि बिहार की यह धरती परिवर्तन का केंद्र रही है। अंग्रेजों के खिलाफ स्वतंत्रता का आंदोलन हो या इंदिरा की इमरजेंसी हो, इसके खिलाफ आंदोलन बिहार की भूमि से ही शुरू हुआ। आज भाजपा को धोखा देकर लालू की गोद में बैठकर नीतीश जी ने स्वार्थ और सत्ता की राजनीति का जो परिचय दिया है, उसके खिलाफ बिगुल फुंकने की शुरुआत भी इसी भूमि से होगी। हम स्वार्थ और सत्ता की राजनीति की जगह सेवा और विकास की राजनीति के पक्षधर हैं।

अमित शाह ने कहा कि आपने सबसे पहले जनता पार्टी देवीलाल गुट के साथ चले गए, उसके बाद लालू जी के साथ कपट किया। लालू जी आप ध्यान रखिएगा, नीतीश बाबू कल आपको छोड़कर कांग्रेस की गोदी में बैठ जाएंगे और किसी को मालूम नहीं पड़ेगा। सबसे बड़ा धोखा नीतीश ने किसी को दिया तो देश में प्रतिष्ठित नेता जॉर्ज फर्नांडिस को दिया। उनके कंधे पर बैठकर जनता पार्टी बनाई और जब जॉर्ज बाबू का स्वास्थ्य अच्छा नहीं रहा तो उनके हटाकर राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए।

अमित शाह ने कहा कि नीतीश कुमार कभी प्रधानमंत्री नहीं बन पाएंगे और बिहार में भी सरकार नहीं चलेगी। उन्होंने कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में लालू-नीतीश का जनता सूपड़ा साफ कर देगी। साथ ही 2025 के विधानसभा चुनाव में बिहार में बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनने जा रही है। नीतीश कुमार को बस कुर्सी प्यारी है। वो किसी भी पार्टी से गठबंधन कर लेते हैं। जब लालू जी सरकार में हैं तो कौन बचा सकता है।



Related news