नई दिल्ली: पंजाब में 420 वीआईपी लोगों की सुरक्षा फिर से बहाल होगी। 7 जून से इन लोगों को फिर से सुरक्षा मिलेगी और हर किसी को खतरे की समीक्षा करने के बाद ही आगे कोई फैसला होगा। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में भगवंत मान सरकार ने गुरुवार को सुनवाई के दौरान यह बात कही। इस तरह पंजाब सरकार ने हाई कोर्ट में अपने फैसले से पलटने की बात कही है, जिसके तहत उसने वीआईपी कल्चर खत्म करने की बात कही थी। पूर्व मंत्री ओपी सोनी की अर्जी पर सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट में आप सरकार ने 7 जून से 420 लोगों की सुरक्षा बहाल करने की जानकारी दी। पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद यह फैसला लिया गया है।

मूसेवाला भी उन लोगों की लिस्ट में शामिल थे, जिनकी सुरक्षा को कम किया गया था या फिर वापस लिया गया था। सुनवाई के दौरान अदालत ने मान सरकार पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि आखिर जिन लोगों का सुरक्षा कवर कम हुआ था, उनकी लिस्ट लीक कैसे हो गई थी। सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद पंजाब सरकार की ओर से सुरक्षा को वापस लिए जाने की काफी निंदा की गई थी। सिद्धू मूसेवाला की मानसा में अज्ञात हमलावरों ने 30 गोलियां मारकर हत्या कर दी थी। इस घटना के बाद से ही पंजाब में राजनीतिक उबाल देखा जा रहा है और कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर भी भगवंत मान सरकार घिरी हुई है। 



Related news