तिरुअनंतपुरम: कोच्चि के पल्लुरथी में पुलिस ने पीएफआई की रैली में भड़काऊ नारे लगाने वाले बच्चे के पिता अशकर अली को हिरासत में ले लिया है। उसे अलपुझा पुलिस के हवाले किया जाएगा। पुलिस ने दो दिन पूर्व ही नारा लगाने वाले नाबालिग बच्चे के परिवार की पहचान कर ली थी, लेकिन फरार होने की वजह से उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा सका था। 

नाबालिग बच्चे के पिता ने कहा कि ‘वह पीएफआई का सक्रिय कार्यकर्ता नहीं है, लेकिन बड़े कार्यक्रमों में हिस्सा लेता रहा है। पल्लुरथी स्थित नाबालिग लड़के के घर पुलिस पहुंची और उसके पिता को हिरासत में ले लिया। हालांकि बच्चे के माता-पिता का कहना है कि वे घूमने गए हुए थे जब उन्हें इस मामले की जानकारी हुई। बता दें कि मार्च में एक नाबालिग द्वारा कथित रूप से भड़काऊ नारेबाजी किए जाने के मामले में शुक्रवार को और 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उक्त घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस मामले में पीएफआई के पदाधिकारियों सहित 18 लोगों की गिरफ्तारी के साथ ही इस मामले में कुल 20 लोगों की गिरफ्तारी हुई है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया हमने 18 और लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें कुछ आयोजक और अन्य पदाधिकारी हैं। इस रैली का वीडियो वायरल होने के बाद मामला प्रकाश में आया था। वीडियो में एक नाबालिग बच्चा हिंदू समुदाय के खिलाफ भड़काऊ नारे लगा रहा था। पुलिस ने बीते मंगलवार को पुलिस ने पीएफआई अलाप्पुझा के जिला अध्यक्ष नवास वंदनम और जिला सचिव मुजीब के खिलाफ मामला दर्ज किया था। 





Related news