कोलकाता: पश्चिम बंगाल में शुक्रवार को भाजपा कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया की एक लाश मिली। भाजपा इस राजनीतिक हत्या बता रही है। इस बीच शुक्रवार को गृहमंत्री अमित शाह बंगाल दौरे के दौरान मृतक कार्यकर्ता चौरसिया के घर पहुंचे थे। इस दौरान शाह ने कहा कि आज भाजपा के कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया की राजनीतिक रुप से हत्या कर दी गई। उनके परिवार का कहना है कि उनकी जघन्य रूप से हत्या हुई है। कल ही टीएमसी को एक साल हुआ है और उसके दूसरे दिन ही राजनीतिक हिंसा और हत्या की परंपरा को फिर से शुरू किया है। उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय भी इस घटना का गंभीरता से संज्ञान में ले रहा है और आज ही गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट तलब की है।

शाह ने कहा कि पूरे बंगाल में राजनीतिक हिंसा, प्रतिशोध में हत्याएं और विरोधी राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं को चुन-चुन कर निशाना बनाने के अनेक उदाहरण हमारे पास आए हैं। भाजपा अर्जुन की हत्या की घोर निंदा करती है और हम अदालत से हत्यारे को कड़ी से कड़ी सजा मिले यह सुनिश्चत करने वाले हैं। शाह ने कहा कि मैं पीड़ित परिवार से मिला, उसकी दादी को भी पीटा गया है। भाजपा इस घटना की सीबीआई जांच की मांग करती है। उत्तर कोलकाता के भाजपा अध्यक्ष कल्याण चौबे का दावा है कि भाजपा युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष, सक्रिय कार्यकर्ता की बॉडी आज सुबह लटकी हुई मिली है।

बता दें कि बंगाल में हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। फिर हिंसा में निशाने पर भाजपा कार्यकर्ता ही हैं। उत्तरी कोलकाता के रहने वाले भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई है। इसके बाद भाजपा ने कोलकाता में गृह मंत्री शाह के स्वागत के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए। 




Related news