नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुंडका स्थित एक बहुमंजिला इमारत में शुक्रवार शाम हुए दर्दनाक हादसे का आज सुबह दौरा किया। इस भीषण आगजनी में जान गंवाने वाले लोगों के प्रति गहरा दुख व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह हादसा बेहद दर्दनाक और झकझोर देने वाला है। इसकी मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं। हादसे में मृतकों के परिवार को 10 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए मुआवजा दिया जाएगा। सीएम अरविंद केजरीवाल स्पष्ट किया कि इस हादसे के किसी भी दोषी को बक्शा नहीं जाएगा। मजिस्ट्रियल जांच के नतीजे आने पर पता चलेगा कि कोई अधिकारी जिम्मेदार था या कोई एजेंसी जिम्मेदारी थी। उन्होंने कहा कि गुमशुदा की रिपोर्ट करने वाले लोगों की मदद के लिए हेल्प डेस्क लगाया है। बिल्डिंग में लगी आग बहुत ही भीषण थी। कई बॉडी इतनी क्षत-विक्षत हो गई हैं कि अभी तक उनकी पहचान भी नहीं हो पाई है। डीएनए आदि की जांच पूरी होने के बाद ही मृतकों की वास्तविक संख्या का पता चल सकेगा। वहीं, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि मुंडका में हुआ हादसा बेहद दुःखद है। इस हादसे में कई लोगों ने अपनों को खोया है।

उल्लेखनीय है कि पश्चिमी दिल्ली के मुंडका इलाके में शुक्रवार की शाम एक बहुमंजिला इमारत में भीषण आग लग गई थी। इस हादसे में कई लोगों की जलकर मौत हो गई है, जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं और उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। सीएम अरविंद केजरीवाल हादसे की जानकारी मिलने के बाद से ही लगातार अधिकारियों से संपर्क में रहे और पल-पल घटना की जानकारी लेते रहे। शनिवार को सुबह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटला स्थल दौरा किया और इस भीषण आगजनी में जान गंवाने वालों और घायलों के परिजनों से मुलाकात कर उनके प्रति अपनी दुख एवं संवेदना व्यक्त की। सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने भी घटना स्थल का दौरा किया। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने स्थानीय लोगों से भी बात की और अधिकारियों से इस दर्दनाक आग लगने की घटना की विस्तृत जानकारी ली। इस दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सरकार की तरफ से पीड़ित परिवारों को हर संभव मदद करने और घायलों को बेहतर से बेहतर इलाज देने का आश्वासन भी दिया है। 

मीडिया से बातचीत करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यहां पर कल बहुत ही दर्दनाक हादसा हुआ। बिल्डिंग के अंदर आग लग गई थी। आग बहुत ही भीषण थी, जिसमें जलने से कई लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है। कई बॉडी इतनी क्षत-विक्षत हो गई हैं कि अभी तक उनकी पहचान भी नहीं हो पाई है। जो-जो लोग गुमशुदा की रिपोर्ट कर रहे हैं, उन लोगों की मदद के लिए हमने जिलाधिकारी की तरफ से यहां पर हेल्प डेस्क भी लगाया है। एफएसएल के जरिए डीएनए की जांच कर पहचान कर पाएंगे कि कौन की बॉडी किसी परिवार की है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि जिन लोगों की मौत हुई है, उनकी आत्मा को शांति दें। उनके घर के लोगों को यह दुख बर्दाश्त करने की शक्ति दे। मैंने दिल्ली सरकार की तरफ से पूरे हादसे की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिया है। जिन लोगों की मौत हो गई हैं, उनके आश्रित परिवार 10-10 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। वहीं, जो लोग घायल हुए हैं, उनको 50-50 हजार रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। इस घटना से संबंधित दो भाइयों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जांच में भी जो निकल कर आएगा और जो लोग दोषी पाए जाएंगे, उनको बक्शा नहीं जाएगा। 

सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस हादसे में मौत की संख्या के सवाल पर कहा कि मैं अभी आधिकारिक रूप से मृतकों की संख्या के बारे में कुछ कहने की स्थिति में नहीं हूं, जब तक कि सारा डीएनए आदि की जांच नहीं हो जाती है। जब डीएनए आदि की जांच हो जाएगी, तभी वास्तविक संख्या का पता चल सकेगा। मजिस्ट्रियल जांच में लापरवाही का भी पता चल जाएगा। जब जांच के नतीजे आएंगे, तो पता चलेगा कि कोई अधिकारी जिम्मेदार था या कोई एजेंसी जिम्मेदार थी। इस वक्त हमें जांच का इंतजार करना चाहिए। एक बार जांच के नतीजे जा जाएं, उसमें जो भी दोषी पाया जाएगा, हम किसी को भी नहीं छोड़ेंगे।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर जानकारी दी कि मुंडका स्थित इमारत में लगी आग का हादसा बेहद दर्दनाक और झकझोर देने वाला है। माननीय मुख्यमंत्री जी ने खुद मौक़े पर पहुंचकर अधिकारियों से रिपोर्ट ली। हादसे की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दे दिए गए हैं। मृतकों के परिवार को 10 लाख रुपए एवं घायलों को 50 हज़ार का मुआवज़ा दिया जाएगा।’’

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने घटना स्थल का दौरा करने के उपरांत ट्वीट कर कहा, ‘‘मुंडका में हुआ हादसा बेहद दुःखद है। आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के साथ दुर्घटना स्थल पर जाकर पीड़ितों से मुलाकात की। इस हादसे में कई लोगों ने अपनो को खोया है। दिल्ली सरकार मृतकों के परिजनों को 10 लाख व घायलों को 50 हज़ार रुपए का मुआवजा देगी।’’

वहीं, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ मुडका में माननीय मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के साथ घटना स्थल का दौरा किया, जहां भीषण आग लग गई थी। सीएम अरविंद केजरीवाल ने घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए का मुआवजा दिया जाएगा।’’



Related news