-माता पिता और बच्चे तनाव में

ओटावा: वाटरलू यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने 5 से 18 साल के बीच के बच्चों और उनके माता-पिताओं पर सर्वे किया है। इस शोध में पाया गया है कि अभिभावक खाली समय में या आराम करने के दौरान फोन या अन्य डिजिटल माध्यमों के संपर्क में बने रहते हैं। जिसके कारण उनके बच्चे चिड़चिडे हो रहे हैं। समय-समय पर वह बच्चों को अपने से दूर करते हैं। उन्हें चुप कराने की कोशिश करते हैं। 

शोधकर्ताओं का नेतृत्व कर रहे प्रोफ़ेसर जैस्मीन झाग के अनुसार जो अभिभावक सोशल मीडिया पर 2 घंटे का समय बिताते हैं। उनका व्यवहार बच्चों के साथ सकारात्मक पाया गया। जो अभिभावक 4 घंटे से ज्यादा समय सोशल मीडिया अथवा मोबाइल पर सक्रिय रहते हैं। उनका व्यवहार बच्चों के लिए ठीक नहीं होता है। अभिभावक और बच्चों के बीच में हमेशा तनाव बना रहता है। रिसर्च टीम ने यह भी पाया है कि परिवार के लोगों के बीच में अब बातचीत बहुत कम हो रही है। जिसका नकारात्मक असर परिवारों पर पड़ रहा है। 





Related news