नयी दिल्ली: गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने जांचकर्ताओं को बताया है कि कनाडा में रहने वाले गोल्डी बराड़ समेत उसके गिरोह के सदस्यों ने साजिश रचकर गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या की। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।


उन्होंने बताया कि पूछताछ में बिश्नोई ने आरोप लगाया है कि मूसेवाला अकाली दल के युवा नेता विक्रमजीत सिंह उर्फ विक्की मिड्डूखेड़ा की पिछले साल सात अगस्त को हुई हत्या में शामिल था, जिसके कारण बिश्नोई और पंजाबी गायक के बीच “दुश्मनी” पनपी। बिश्नोई मौजूदा समय में दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ की हिरासत में है।


अधिकारियों के मुताबिक, बिश्नोई जांच में बिल्कुल भी सहयोग नहीं कर रहा और उसने अभी तक अपने गिरोह के उन सदस्यों का नाम नहीं बताया है, जिन्होंने मूसेवाला की हत्या के पीछे की साजिश रची।


गायक और नेता मूसेवाला (28) की पंजाब के मानसा जिले में 29 मई को कुछ अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इससे एक दिन पहले पंजाब सरकार ने मूसेवाला की सुरक्षा घटाई थी।


अधिकारियों के अनुसार, मामले की जांच कर रहे दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने हथियार कानून के तहत दर्ज मुकदमे में बिश्नोई को तिहाड़ से गिरफ्तार करने के बाद उसे तीन दिन की हिरासत में रखा है।


एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “अभी बिश्नोई बिल्कुल भी सहयोग नहीं कर रहा, लेकिन पूछताछ के दौरान उसने स्वीकार किया है कि उसकी मूसेवाला के साथ दुश्मनी थी। उसने यह भी दावा किया है कि उसके गिरोह के सदस्यों ने गायक की हत्या की।”


अधिकारी ने कहा, “बिश्नोई ने खुलासा किया है कि गोल्डी बराड़ गिरोह के उन सदस्यों में शामिल था, जिन्होंने मूसेवाला की हत्या की साजिश रची और उसे मारा। हालांकि, उसने अभी तक असली साजिशकर्ताओं और हत्या को अंजाम देने वालों के नाम का खुलासा नहीं किया है।”


अधिकारी के मुताबिक, “बिश्नोई ने हत्या के पीछे के मकसद का भी खुलासा नहीं किया है। वह मामले से जुड़े अन्य सवालों के जवाब देने में भी सहयोग नहीं कर रहा है।”

—भाषा



Related news