प्रयागराज: इलाहाबाद विवि में फीस वृद्धि पर छात्रों की नाराजगी जारी है। छात्र लगातार उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं। छात्रों ने आज छात्रसंघ भवन गेट पर लगे ताले को तोड़ दिया और सुरक्षा गार्डों के साथ धक्का-मुक्की भी की। मौके पर पहुंचे प्रॉक्टर ने छात्रों पर बदसलूकी का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि यदि इन छात्रों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो वि खुद धरने पर बैठेंगे।

 पूरब का एक्सपोर्ट कहे जाने वाली इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी में इन दिनों फीस वृद्धि का मुद्दा गरमाया हुआ है। छात्र 4 गुना बढ़ाई फीस कम करने के लिए आंदोलन कर रहे हैं। 2 दिन पहले नाराज छात्रों ने केरोसिन डालकर आत्मदाह का प्रयास भी किया था। पुलिस ने इन छात्रों पर वाटर कैनन का उपयोग कर भीड़ को हटाया था।

 आज गरुवार को छात्र उस वक्त नाराज हो गए जब छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए छात्रसंघ भवन के गेट पर ताला लगवा दिया गया। छात्र विश्वविद्यालय के अंदर आना चाहते थे, लेकिन गेट पर लगा ताला देखकर उनका गुस्सा भड़क गया और नाराज छात्रों ने गेट पर लगे ताले को तोड़ दिया। छात्र कैंपस के अंदर आने की कोशिश करने लगे तो सिक्‍योरिटी गार्ड्स ने उनको रोकने की कोशिश की। ऐसे में छात्रों ने उनसे धक्का-मुक्की की जिससे एक छात्र के पैर में चोट भी लगी है।

 इसके साथ ही चीफ प्रॉक्टर हर्ष कुमार ने भी छात्रों पर बदसलूकी का आरोप लगाया है। उन्‍होंने पुलिस को हंगामा कर रहे छात्रों को गिरफ्तार करने को कहा और कहा कि अगर इन छात्रों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो वह खुद धरने पर बैठ जाएंगे। अब तक दो दर्जन नामजद और डेढ़ सौ से ज्यादा अज्ञात छात्रों पर कर्नलगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है। इससे पहले भी छात्रों ने कैंडल मार्च निकाला था और गेट पर लगा ताला तोड़ा था। फीस वृद्धि के इस मुद्दे पर न तो कॉलेज प्रशासन पीछे हट रहा है न तो छात्र पीछे हटने को तैयार हैं।



Related news