• घटना की वजह मारपीट का वीडियो वायरल होने को माना जा रहा है 
  • आरोपी व पीड़ित दोनों ही खास, पुलिस पशोपेश में दिखाई दे रही है
  • फायर की घटना पूर्व प्रदेशाध्यक्ष के आवास के समीप की बतायी जा रही है

हरिद्वार (दैनिक हाक): भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष के दो समर्थकों के बीच आपसी वर्चस्व को लेकर चली आ रही खिंचातन ने गोली काण्ड का रूप ले लिया। एक चर्चित समर्थक पर अपने साथियों के साथ दूसरे समर्थक के घर पहुंचकर कई फायर करने का आरोप है। घटना पूर्व प्रदेशाध्यक्ष के आवास से कुछ ही दूरी की बतायी जा रही है। सूचना पर रेल चैकी प्रभारी मौके पर पहुंचकर घटना स्थल पर पहुंची। पुलिस पीड़ित भाजपा कार्यकर्ता से घटना की जानकारी लेते हुए आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगालने में जुटी है। बताया जा रहा है कि घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी जल्दबाजी में अपनी स्कूटी व बाइक मौके पर छोड़कर फरार हो गये। पुलिस ने दोनों वाहनों को अपने कब्जे में ले लिया है। दोनों पक्ष ही पूर्व प्रदेशाध्यक्ष के खास समर्थक होने के कारण पुलिस भी पशोंपेश में देखी जा रही है। 


प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर को खन्ना नगर ज्वालापुर में भाजपा कार्यकर्ता दीपक टंडन के घर पर कुछ लड़कों ने हमला कर दिया। घटना से क्षेत्र में हड़कम्प मच गया। बताया जा रहा है कि दोनों पक्ष भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष मदन कौशिक के खास समर्थक है। घटना पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व नगर विधायक मदन कौशिक के आवास के कुछ दूरी की बतायी जा रही है। भाजपा कार्यकर्त्ता दीपक टंड़न निवासी खन्ना नगर ज्वालापुर का आरोप है कि वह पार्टी के कार्यक्रम से अपने दो साथियों किशन बजाज समेत अन्य के साथ घर में बैठकर चाय पी रहे थे। इसी दौरान कुछ लोगों के भगदड़ का शोर सुनाई दिया। आरोप है जब वह बाहर आया तो विष्णु अरोड़ा अपने दर्जनों साथियों के साथ जोकि लाठी-डण्डे और धारदार हथियार व तमंचे से लैंस थे। आरोप है कि विष्णु अरोड़ा नेे उसको निशाना बनाकर कई फायर किये, गोली उनके छुते हुए निकल गयी। शोर सुनकर आसपास के लोग भी बाहर आ गये। इसी दौरान आरोपी मौके से फरार हो गये। पीड़ित कार्यकर्ता का आरोप है कि विष्णु अरोड़ा बदमाश बनना चाहता हैं, इसलिए वह भाजपा कार्यकर्ताओं समेत अन्य लोगों को अपनी दादागिरी दिखाकर दहशत फैलाने का काम कर रहा है। आरोप है कि आरोपी विष्णु अरोड़ा ने शुक्रवार की रात को गली नम्बर 5 खन्ना नगर निवासी दीपक शर्मा नाम के एक युवक के साथ मारपीट की गयी थी। जिसकी वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गयी। जिसको लेकर विष्णु अरोड़ा को लगता है कि वह वीडियो उसके द्वारा वायरल की गयी है। जबकि वीडियो वायरल में उसका कोई हाथ नहीं है। विष्णु अरोड़ा समेत उसके साथियों के खिलाफ कोतवाली ज्वालापुर में तहरीर देकर अपनी जान माल की सुरक्षा की भी मांग पुलिस से करेंगे। साथ ही भाजपा के पदाधिकारियों से भी विष्णु अरोड़ा को पार्टी से बाहर करने की मांग करेंगे। 


कोतवाली ज्वालापुर एसएसआई प्रदीप तोमर के मुताबिक सूचना मिली है पुलिस मौके पर मामले की जांच में जुटी है। दोनों पक्ष की भाजपा के कार्यकर्ता बताये जा रहे हैं जिनमें एक कार्यकर्ता विष्णु अरोड़ा पर अपने साथियो के साथ दूसरे कार्यकर्ता दीपक टंडन के घर पर फायर करने का आरोप है। पुलिस घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगालने में जुटी है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज करने की कार्यवाही की जाएगी। बता दे कि चर्चित भाजपा कार्यकर्ता विष्णु अरोड़ा पर कोतवाली नगर समेत कोतवाली ज्वालापुर में मारपीट व जान से मारने की धमकी देने की कई शिकायत की गयी थी। आरोप है कि हर बार पूर्व प्रदेशाध्यक्ष के हस्तक्षेप के चलते मामले को निपटा लिया जाता रहा है। इस घटना में हर बार की तरह इस बार भी पूर्व प्रदेशाध्यक्ष आरोपी समर्थक के खिलाफ सही मायने पर पुलिस को अपनी कानूनी कार्यवाही करने देंगे या फिर सत्ता के बल पर दखल देकर मामले को निपटाने में अपनी अहम भूमिका निभायेंगे।



Related news