हरिद्वार (दैनिक हाक): उत्तराखंड के पूर्व सीएम और वरिष्ठ कांग्रेस नेता हरीश रावत ने राज्य सरकार पर हरिद्वार में होने वाले आगामी पंचायत चुनाव में गड़बड़ी कराने का आरोप लगाया है। हरिद्वार प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत के दौरान हरीश रावत ने कहा कि पंचायत चुनाव में हार के डर से सरकार सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग कर रही है। पंचायतों में आरक्षण व परिसीमन में मनमानी की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस समय हरिद्वार में पंचायती संस्थाएं और पंचायती लोकतंत्र खतरे में है। हरीश रावत ने इसके विरोध में 18 अगस्त को मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर उपवास करने की घोषणा भी की। हरीश रावत ने बताया कि राज्य में बढ़ती मंहगाई और बेरोजगारी के विरोध में 16 अगस्त को उनके द्वारा 3 किलोमीटर का पैदल मार्च भी निकाला जाएगा। हरीश रावत हरिद्वार में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर आरक्षण और परिसीमन में गड़बड़ी का आरोप लगाते रहे हैं। उन्होंने इसके विरोध में 7 अगस्त को मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर उपवास करने की घोषणा की थी। लेकिन मुख्यमंत्री के उत्तराखंड से बाहर होने के चलते उपवास को टाल दिया गया था। अब हरीश रावत ने 18 अगस्त को उपवास करने की घोषणा की है। पत्रकारवार्ता के दौरान पूर्व पालिकाध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी, संतोष चौहान, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राव आफाक अली, मनीष कर्णवाल, रविश भटीजा आदि मौजूद रहे। 



Related news