मुंबई: महाराष्ट्र का सियासी घटनाक्रम किस मोड़ पर पहुंचेगा यह कैबिनेट की बैठक के बाद स्पष्ट हो जाएगा। कहा जा रहा है कि उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं। लेकिन इससे पहले कैबिनेट की बैठक होगी, जहां पर इसको लेकर चर्चा हो सकती है। सूत्रों के हवाले से यह जानकारी सामने आई है। इसी बीच मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ के साथ मुंबई में पार्टी विधायकों की बैठक हुई। 

महाराष्ट्र के मौजूदा घटनाक्रम पर राजनीतिक गलियारों में जमकर चर्चा हो रही है। इसी बीच कमलनाथ ने कांग्रेस विधायकों के साथ बैठक की। इस बैठक में कांग्रेस के 41 विधायक मौजूद रहे। इस बैठक के बाद कमलनाथ ने जानकारी दी कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं। उन्होंने कहा कांग्रेस के सभी विधायक एकजुट है। उन्होंने कहा कि अभी हमने कांग्रेस विधायकों के साथ बैठक की है। हमारे 44 में से 41 विधायक मौजूद थे और 3 रास्ते में हैं। कांग्रेस में पूरी एकता है। मैंने उद्धव ठाकरे को फोन पर आश्वासन दिया है कि कांग्रेस महाविकास अघाड़ी सरकार का समर्थन करती रहेगी।

कमलनाथ ने कहा कि उनकी पार्टी एकजुट है और पार्टी विधायक बिकाऊ नहीं हैं। आपको बता दें कि कमलनाथ को मंगलवार को राज्य में राजनीतिक उथल-पुथल के मद्देनजर महाराष्ट्र में एआईसीसी पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया था। कांग्रेस विधायकों के साथ मुलाकात के बाद कमलनाथ ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की। इसी बीच कांग्रेस नेता बालासाहब थोराट ने कहा कि हमारे जो 44 विधायक हैं, वे सभी हमारे साथ में हैं। 



Related news