पोर्ट ऑफ स्पेन: शिखर धवन ने कहा कि एक कप्तान जिस तरह का संपूर्ण प्रदर्शन चाहता हैं, खिलाड़ियों ने वेस्टइंडीज के खिलाफ उसी तरह का प्रदर्शन कर युवा खिलाड़ियों ने अपना जज्बा दिखाकर चुनौती को अवसरों में बदला। भारत ने तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला में 3-0 से जीत दर्ज करके क्लीन स्वीप किया। धवन पहले ऐसे कप्तान बन गए हैं, जिनकी अगुवाई में भारत ने वेस्टइंडीज का उसी की धरती पर सूपड़ा साफ किया। भारत ने तीसरे वनडे में शुभमन गिल के नाबाद 98 रन की मदद से 119 रन की बड़ी जीत दर्ज की। धवन ने मैच के बाद कहा, हमने पूरी श्रृंखला में जिस तरह से प्रदर्शन किया उससे मुझे टीम पर गर्व है। प्रत्येक मैच में हमने अपना जज्बा दिखाया और चुनौतियों को अवसरों में बदला। जिस तरह से प्रत्येक खिलाड़ी ने अपना योगदान दिया उससे मैं बहुत खुश हूं।' 

धवन ने कहा, एक कप्तान के तौर पर मैं जिस तरह का संपूर्ण प्रदर्शन चाहता था, खिलाड़ियों ने वैसा ही खेल दिखाया।' भारतीय बल्लेबाजों ने वेस्टइंडीज के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया। गिल, धवन, श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन और अक्षर पटेल ने बेहतरीन पारियां खेली। धवन ने कहा, जिस तरह से मैंने अपने शॉट खेले उसे देखते हुए मैं अपनी बल्लेबाजी से बहुत खुश हूं। इतने अनुभव के बाद मैं जानता हूं कि किस तरह से शांत चित्त होकर खेलना चाहिए। मुझे तब अच्छा लगता है, जब मैं शांत चित्त होकर दबाव को झेलता हूं।' 

धवन ने श्रृंखला में गिल (205) के बाद सर्वाधिक 168 रन बनाए। उन्होंने कहा, ‘टीम के लिहाज से हमारे लिए सब कुछ सकारात्मक रहा। बल्लेबाजी में प्रत्येक खिलाड़ी ने योगदान दिया। गिल, श्रेयस अय्यर, संजू, अक्षर सभी ने अच्छी बल्लेबाजी की। बल्लेबाजी इकाई के लिए यह बहुत अच्छा संकेत है। सभी युवा हैं और उन्होंने प्रत्येक मैच में अपनी जिम्मेदारी को अच्छी तरह से निभाया।' धवन ने कहा, ‘गेंदबाजी में मोहम्मद सिराज, प्रसिद्ध कृष्णा, शार्दुल ठाकुर और यूजवेंद्र चहल अनुभवी गेंदबाज हैं। अक्षर ने भी अच्छी गेंदबाजी की। यहां तक कि दीपक हुड्डा ने भी अच्छी गेंदबाजी की। गेंदबाजी इकाई ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। जब खेल के दोनों विभागों में आपके खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तब यह देखकर अच्छा लगता है।' 

धवन ने विशेष रूप से गिल की तारीफ कर उनके बल्लेबाजी कौशल की रोहित शर्मा के साथ तुलना की। उन्होंने कहा, उनकी (गिल) तकनीक बहुत अच्छी है और वह एक शानदार बल्लेबाज है। मुझे लगता है कि उसमें कुछ हद तक रोहित की झलक दिखती है। वह जिस तरह से बल्लेबाजी करता है उसे देखकर लगता है कि उसके पास काफी समय है। यह देखकर अच्छा लगा कि आज उसने 98 रन की पारी खेली। वह जानता है कि अर्धशतक को कैसे बड़े स्कोर में बदला जाता है।' 







Related news