देहरादून: पिछले 22 वर्ष से डिग्रीधारी लैब तकनीशियनों की नियमावली वर्षवार मेरिट के आधार पर बनाये जाने व नियुक्ति की मांग को लेकर बेरोजगारों ने नारेबाजी के बीच प्रदर्शन करते हुए रैली निकालकर सचिवालय कूच किया। आज मेडिकल लैब टेक्नोलाॅजिस्ट संघ उत्तराखंड के बैनर तले डिग्रीधारी लैब तकनीशियन परेड ग्राउंड में प्रदेश अध्यक्ष आशीष चन्द्र के नेतृत्व में इकटठा हुए और वहां से अपनी मांगों को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रैली निकालकर सचिवालय कूच किया। जैसे ही रैली सुभाष रोड पर पहुंची तो वहां पर पुलिस ने बैरीकैडिंग लगाकर सभी को रोक लिया और सभी डिग्रीधारी लैब तकनीशियन वहीं पर धरने पर बैठ गये और प्रदर्शन करने लगे। इस अवसर पर डिग्रीधारी लैब तकनीशियनों ने कहा कि अपनी विभिन्न मांगों को लेकर समय-समय पर संबंधित मंत्री एवं अधिकारियों को पत्राचार व अन्य माध्यमों से अवगत करने की कई बार कोशिश की गई परन्तु सरकार द्वारा लैब तकनीशियन संवर्ग की राज्य बनने के विगत 22 वर्षो से अनदेखी की जा रही है उनके हितों के लिए किसी भी प्रकार की कोई सेवा नियमावली नहीं बनाई जा रही है जो चिंता का विषय है। इस अवसर पर उनका कहना है कि विगत 22 वर्षो में डिग्रीधारी मेडिकल लैब तकनीशियन के लिए कोई भी सेवा नियमावली नहीं बनाई गई हैं जो चिंता का विषय है। दूसरी ओर हमारें पदों को आउटसोर्सिंग के तहत भरा जा रहा हैं जिससे डिग्रीधारी लैब तकनीशियनों एवं बेरोजगार युवाओं में निराशा का भाव उत्पन्न हो रहा हैं। इस अवसर पर डिग्रीधारी लैब तकनीशियनों का कहना है कि मेडिकल लैब तकनीशियनों हेतु सेवा नियमावली वर्षवार मेरिट के आधार पर बनाई जाये। इस अवसर पर प्रदेश भर से आये हुए डिग्रीधारी लैब तकनीशियन शामिल रहे। 





Related news