जोधपुर: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो यात्रा' पर कटाक्ष करते हुए शनिवार को कहा कि 'भारत राष्ट्र है ही नहीं' कहने वाले आज 'विदेशी' टीशर्ट पहनकर भारत जोड़ने निकले हैं।


यहां भाजपा की राजस्थान इकाई के बूथ पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए उन्होंने मुस्लिम चरमपंथियों द्वारा उदयपुर में की गयी दर्जी कन्हैया लाल की हत्या और करौली हिंसा को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधा तथा आरोप लगाया कि कांग्रेस केवल वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति कर सकती है। उन्‍होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से आगामी चुनाव में इसे 'उखाड़ फेंकने' को कहा।


राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो यात्रा' का जिक्र करते हुए उन्‍होंने कहा, ‘‘ अभी राहुल बाबा, भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं... विदेशी टी-शर्ट पहनकर वह भारत जोड़ने निकले हैं... मैं उनको और कांग्रेसियों को संसद में उनके भाषण का एक वाक्य याद दिलाता हूं... भारत राष्ट्र है ही नहीं। राहुल बाबा, किस किताब में आपने यह पढ़ा है? यह तो वह राष्ट्र है जिसके लिए लाखों, लाख लोगों ने अपने गर्दन कटवाए।’’


शाह ने कहा,‘‘आपको यह राष्‍ट्र नहीं लगता ... ये राहुल बाबा भारत जोड़ने न‍िकले हैं, मुझे लगता है कि उनको भारत का इतिहास पढ़ने की जरूरत है।’’


उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी सात सितंबर से भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं जो कन्याकुमारी से कश्मीर तक 3750 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।


शाह ने अपने संबोधन के दौरान राज्‍य की अशोक गहलोत सरकार पर भी तीखे वार किए और चुनावी वादों पर खरा नहीं उतरने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा,‘‘ गहलोत साहब जोधपुर के ही हैं, मैं उनके गांव में आकर बोलता हूं गहलोत जी ध्‍यान से सुनिएगा आपके वादे याद कराने आया हूं।’’


पूर्व भाजपा अध्यक्ष शाह ने कहा, ‘‘ (आपने) 2018 में राहुल गांधी के साथ जो वादे किए थे, उनके बारे में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आपसे ह‍िसाब मांगती है। 10 दिन के अंदर किसानों का ऋण माफ करने का क्या हुआ? युवाओं को 3,500 रुपये बेरोजगारी भत्ता देने का क्या हुआ? 20 लाख युवाओं को रोजगार देने का क्या हुआ?’’


भाजपा नेता ने कहा, ‘‘ कांग्रेस सिर्फ खोखले वादे कर सकती है, वह वादों को पूरा नहीं कर सकती। कांग्रेस सरकार विकास का काम नहीं कर सकती है। वह सड़कें नहीं बना सकती, बिजली नहीं दे सकती, रोजगार नहीं दे सकती है। कांग्रेस सिर्फ वोट बैंक एवं तुष्टिकरण की राजनीति कर सकती है।’’


शाह ने कहा कि देश में सबसे महंगी ब‍िजली एवं पेट्रोल-डीजल राजस्‍थान में हैं। उन्‍होंने कहा, ‘‘ (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी जी ने अभी पेट्रोल पर कर घटाया, जहां-जहां भाजपा की सरकारें थीं, उन सभी राज्‍य सरकारों ने वैट कम किया लेकिन गहलोत जी ने ऐसा नहीं किया। आज देश में सबसे महंगा डीजल एवं पेट्रोल राजस्‍थान में मिलते हैं। सबसे महंगी बिजली देश में अगर कहीं पर म‍िलती है तो य़ह राजस्‍थान है। कौन जिम्‍मेदार है ’’


उन्होंने आह्वान किया, ‘‘इसके लिए .... उखाड़कर फेंक दो गहलोत सरकार को, हम कम करेंगे ब‍िजली के दाम ।’’


उदयपुर में हुई कन्‍हैयालाल दर्जी की निर्मम हत्‍या का जिक्र करते हुए उन्‍होंने सवालिये लहजे में कहा, ‘‘हमारे भाई कन्हैयालाल की निर्ममता से हत्या हुई, ये आप सहन कर लेंगे क्या? करौली की हिंसा को सहन करेंगे क्या? हिंदू त्योहार पर प्रतिबंध लगाना सहन करेंगे क्या? रामनवमी की शोभायात्रा न निकालना सहन करेंगे? अलवर में 300 साल पुराने मंदिर को तोड़ना सहन करेंगे क्या?’’


ह‍िंसक घटनाओं का जिक्र करते हुए शाह ने कहा , ‘‘ छबड़ा, भीलवाड़ा, करौली, जोधपुर, चित्‍तौड़, नोहर, मालपुरा में सुनियोजित दंगे इन कांग्रेसियों ने कराएं हैं।’’


उन्होंने कहा, ‘‘मैं तो गहलोत साहब से इतना कहना चाहता हूं कि अगर आप से संभलता नहीं है तो आप सत्ता छोड़ दीज‍िए। राजस्‍थान की जनता भाजपा को लाने के लिए तैयार बैठी है।’’


कानून व्‍यवस्‍था को लेकर राज्‍य सरकार पर निशाना साधते हुए उन्‍होंने कहा कि गहलोत सरकार का प्रशासन पर कोई नियंत्रण नहीं।


शाह ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की विभिन्‍न योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘(प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी जी ने देश को सुरक्षित किया है समृद्ध किया है और वह देश को शिक्षित करने के लिए नई शिक्षा नीति लेकर आए हैं।’’


उन्होंने कहा, ‘‘अभी देश कांग्रेस की दो (राज्य) सरकारें है: राजस्थान और छत्तीसगढ़ ।... दोनों राज्यों में 2023 में चुनाव हैं। इन दोनों राज्यों में अगर भाजपा सरकार बनती है तो कांग्रेस के पास कुछ नहीं बचेगा? आज जिस प्रकार की राजस्थान में सरकार चल रही है, उससे हम सभी दुखी हैं। राजस्थान में सरकार ने राज्य को विकास की दौड़ में मीलों पीछे ले जाने का काम किया है।’’


उन्होंने कहा कि सरकारें कार्यकर्ताओं के जोश से बनती हैं और वे यहां कार्यकर्ताओं के जोश को देखकर ही कह सकते हैं कि यहां (राजस्‍थान) में सरकार बनने जा रही है। उल्‍लेखनीय है कि राजस्‍थान में अगले साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं।


इस कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष सतीश पूनियां, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, पूर्व मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे भी मौजूद थे।


शाह राजस्‍थान के दिन के दौरे पर शुक्रवार शाम को जैसलमेर पहुंचे थे। उन्‍होंने शनिवार सुबह जैसलमेर में सीमा पर्यटन विकास कार्यक्रम के अंतर्गत 17.67 करोड़ रुपये की श्री तनोट मंदिर कॉम्प्लेक्स परियोजना का शिलान्यास किया। ‘तनोट विजय स्तंभ’ पर सीमाओं की सुरक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले वीर बलिदानियों को नमन कर उन्होंने कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से उन्हें श्रद्धांजलि दी।

—भाषा



Related news