नई दिल्ली: भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच टी-20 श्रंखला मुकाबला 9 जून को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में खेला जाएगा। यह सीरीज केएल राहुल के लिए काफी अहम है। इस सीरीज के लिए उन्हें कप्तान बनाया गया है। यह पहली बार होगा जब केएल राहुल टी-20 इंटरनेशनल में भारत की कप्तानी करेंगे। राहुल इससे पहले भारत की टेस्ट और वनडे में कप्तानी कर चुके हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि कप्तान के तौर पर उनका सफर कैसा रहा। भारतीय टीम के नियमित कप्तान रोहित शर्मा को इस सीरीज में आराम दिया गया है। विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह भी सीरीज का हिस्सा नहीं हैं। ऐसे में कप्तान केएल राहुल और युवा जोश से लबरेज टीम इंडिया पर बेहतर प्रदर्शन करने का दबाव होगा। भारत की टी-20 टीम में उमरान मलिक और अर्शदीप सिंह को पहली बार जगह मिली है। इन दोनों खिलाड़ियों ने आईपीएल 2022 में अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया था।

भारत के कप्तान के तौर पर केएल राहुल सफल नहीं रहे हैं। वह भारतीय टीम की पहले भी कप्तानी कर चुके हैं। उन्होंने एक टेस्ट और तीन वनडे में भारत की कप्तानी की है। उन्हें पहले टेस्ट समेत सभी वनडे में हार का सामना करना पड़ा। कुल मिलाकर उन्हें कप्तान के तौर पर अभी पहली जीत की तलाश है। राहुल साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले मैच में जीत दर्ज कर इस परंपरा को तोड़ना चाहेंगे।

केएल राहुल कप्तान के रूप में अपना पहला टेस्ट और पहला वनडे हार चुके हैं। अगर साउथ अफ्रीका के खिलाफ कप्तान के तौर पर वह पहला टी-20 मैच हार जाते हैं तो वह विराट कोहली की बराबरी कर लेंगे। विराट ने भारत की कप्तानी करते हुए पहला टेस्ट, पहला वनडे और पहला टी-20 इंटरनेशनल मैच हारा था। अगर राहुल पहला टी-20 हार जाते हैं तो वह ये रिकॉर्ड बनाने वाले भारत के सिर्फ दूसरे कप्तान होंगे।



Related news