हापुड़: उ.प्र. के हापुड के धौलाना जिले में अवैध रूप से चल रहे पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट हो गया। हादसे में नौ मजदूरों की मौत हो गई। जबकि 15 मजदूर गंभीर घायल हैं। घायलों को इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग और मेरठ भेजा गया है। बताया जाता है कि हादसा बारूद में ब्लास्ट से हुआ। मौके पर पुलिस और दमकल विभाग की टीम में रेस्क्यू चलाया। फैक्ट्री में बिजली का सामान बनाने के नाम पर लाइसेंस लिया गया था। लेकिन अंदर पटाखा बनाया जा रहा था।

मौके पर पहुंचे आईजी प्रवीन कुमार ने बताया कि इंडस्ट्रियल यूनिट में धमाका हुआ है। फैक्ट्री में इलेक्ट्रॉनिक इक्विपमेंट के लिए लाइसेंस लिया गया था। यहां पटाखा बनाने की बात सामने आई है। इसमें क्या शर्तों का उल्लंघन हुआ है, इसकी जांच की जाएगी। जो भी दोषी होगा उसके ऊपर सख्त कार्रवाई की जाएगी। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि फैक्ट्री में प्लास्टिक की बंदूक और उसमें लगाने वाला बारूद बनाया जाता है। बारूद में धमाका होने से मजदूर बुरी तरह से झुलस गए। धमाका इतना तेज था कि आस-पास मौजूद फैक्ट्रियों की टीन की छतें तक उड़ गईं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हापुड़ में पटाखा फैक्ट्री में मजदूरों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि दुर्घटना में घायल लोगों का समुचित उपचार कराया जाए। मुख्यमंत्री योगी ने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री योगी ने वरिष्ठ अधिकारियों को तुरंत मौके पर पहुंचने और जांच के निर्देश दिए हैं



Related news