बेंगलुरू: भारत के सीनियर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का कोविड-19 के लिये किया गया परीक्षण पॉजिटिव आया है जिसके कारण वह एक से पांच जुलाई के बीच एजबेस्टन में होने वाले टेस्ट मैच के लिये टीम के साथ इंग्लैंड नहीं जा पाये।


भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक सूत्र ने पीटीआई को यह जानकारी दी।


अश्विन अभी पृथकवास पर हैं और प्रोटोकॉल से जुड़ी सभी जरूरतों को पूरा करने के बाद ही टीम में शामिल होंगे। भारतीय टीम के बाकी खिलाड़ी 16 जून को इंग्लैंड के लिये रवाना हुए थे।


बीसीसीआई के सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई को बताया, ‘‘अश्विन ने टीम के साथ ब्रिटेन की यात्रा नहीं की है क्योंकि टीम के रवाना होने से पहले कोविड -19 के लिये किया गया उनका परीक्षण पॉजिटिव आया है।’’


उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन हमें उम्मीद है कि वह एक जुलाई से टेस्ट मैच शुरू होने से पहले ठीक हो जाएंगे। हालांकि उनका लीसेस्टरशर के खिलाफ अभ्यास मैच में खेलना संदिग्ध है।’’



इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के बाद अश्विन टेस्ट मैच की तैयारी के सिलसिले में तमिलनाडु क्रिकेट संघ (टीएनसीए) लीग के लंबी अवधि के प्रारूप के एक मैच में खेले थे जहां उन्होंने 20 ओवर किये थे।


भारतीय टीम गेंदबाजी कोच पारस म्हाम्ब्रे और बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ की निगरानी में लीस्टर में अभ्यास कर रही है।


मुख्य कोच राहुल द्रविड़, ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 श्रृंखला समाप्त होने के बाद लंदन पहुंचे। वे मंगलवार को लीस्टर जाएंगे।


वीवीएस लक्ष्मण की कोचिंग वाली आयरलैंड दौरे पर जाने वाली सीमित ओवरों की टीम 23 या 24 जून को डबलिन के लिए रवाना होगी क्योंकि टीम के सदस्यों को तीन दिन का विश्राम दिया गया है। भारत को 26 और 28 जून को डबलिन में आयरलैंड के खिलाफ दो टी20 मैच खेलने हैं।


टेस्ट टीम इसके बाद बर्मिंघम में इंग्लैंड से भिड़ेगी, जो पिछले साल कोविड-19 संक्रमण के कारण बीच में रोकी गयी पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला का आखिरी मैच है। भारत इस श्रृंखला में अभी 2-1 से आगे है।


एजबेस्टन टेस्ट के बाद भारत और इंग्लैंड तीन वनडे और इतने ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेंगे।

—भाषा



Related news