स्मार्ट इण्डिया हार्डवेयर हैकथान-2022 कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

हरिद्वार (दैनिक हाक): जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आई0आई0टी0) रूड़की द्वारा ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम सभागार में आयोजित स्मार्ट इण्डिया हार्डवेयर हैकथान-2022 कार्यक्रम में प्रतिभाग किया तथा विभिन्न वर्गों में प्रतिभागियों को पुरस्कार तथा प्रतीक चिह्न भेंट किये।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय ने कहा कि भारत की अर्थ व्यवस्था को पांच ट्रिलियन की अर्थ व्यवस्था बनाने के लिये युवाओं को हर क्षेत्र में तेजी से कार्य करना होगा ताकि भारत विश्व गुरू बनने की दिशा में आगे बढ़ सके। उन्होंने हाल ही में सम्पन्न हुये कांवड़ मेले तथा विगत वर्षों में सम्पन्न हुये कुम्भ मेलों आदि का जिक्र करते हुये हैकथान-2022 कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले प्रतिभागियों का आह्वान किया कि वे क्राउड मैनेजमेंट, ट्रैफिक व्यवस्था आदि क्षेत्रों की बेहतर व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में भी अपना योगदान दें।

जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में अवैध खनन का जिक्र करते हुये कहा कि मैन्युअली इसके रोकथाम में काफी दिक्कतें आती हैं, इसके लिये भी तकनीक विकसित किये जाने की आवश्यकता है तथा आपदा प्रबन्धन को और मजबूती प्रदान करने की दिशा में भी काफी कुछ किये जाने की जरूरत है। उन्होंने छात्रों से कहा कि आपके जीवन का एक लक्ष्य होना चाहिये तथा उस लक्ष्य को प्राप्त करने की तस्वीर आपके मस्तिष्क में स्पष्ट होनी चाहिये तथा छात्र अगर अपने जीवन के लक्ष्य को केन्द्रित करते हुये कठोर मेहनत कर रहे हैं, तो उनको निश्चित रूप से सफलता मिलेगी। उन्होंने कैरियर गाइडेंस के महत्व का उल्लेख करते हुये कहा कि छात्र किस स्ट्रीम में बेहतर परिणाम दे सकता है, इसके लिये कैरियर गाइडेंस की व्यवस्था भी होनी चाहिये ताकि छात्र अपनी क्षमता के अनुसार अच्छा परिणाम दे सके।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये आईआईटी रूड़की के डायरेक्टर श्री अजीत चतुर्वेदी ने हैकथान-2022 के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी देते हुये बताया कि इसमें 19 टीमों ने भाग लिया। उन्होंने प्रतिभागियों से कहा कि आपका जो भी नवाचार है, वह मार्केट में दिखाई देना चाहिये। श्री अभिषेक कुमार रंजन इनोवेशन आफिसर ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर श्री संजीव उपाध्याय आर्गेनाइजर, श्री रजत अग्रवाल डीन एसोसिएट्स, श्री विजयनाथ शुक्ल उप जिलाधिकारी रूड़की, स्कूल तथा कॉलेजों के प्रधानाचार्य/अध्यापक सहित छात्र/छात्राओं के अभिभावक उपस्थित थे।






Related news