Top
Home > जीवनशैली > स्वास्थ्य और फिटनेस > 340 से अधिक दवाइयों के बेचने पर रोक

340 से अधिक दवाइयों के बेचने पर रोक

340 से अधिक दवाइयों के बेचने पर रोक
X

नई दिल्ली: औषधि तकनीकी सलाहकार बोर्ड ने 349 दवाइयों पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है। वह अपनी अनुशंसा को जल्द ही स्वास्थ्य मंत्रालय को भेजेगा। जहां से 349 दवाइयों के निर्माण और विक्रय पर रोक लगाने के आदेश जारी हो जाएंगे।
प्राप्त जानकारी के अनुसार समिति ने जांच में पाया है, कि यह 349 दवाइयां पूरी तरीके से अव्यवहारिक हो चुकी हैं। इनके खाने से हानि मरीजों को पहुंच रही है। दुनिया के विकसित देशों में भी इन दवाइयों पर रोक लगी हुई है।
उल्लेखनीय है कि दवा निर्माता कंपनियों ने पिछले साल दिसंबर में जो निर्णय हुआ था। उसके खिलाफ उच्चतम न्यायालय की शरण ली थी। इसके बाद उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर उच्च स्तरीय समिति ने एक बार पुनः जांच की, और उसने भी 349 दवाओं पर प्रतिबंध लगाने की अनुशंसा की है।
इस निर्णय से प्रभावित होने वाली मुख्य ब्रांडेड दवाओं में फैंसीड्रिल, टिक्सीलिव्यन,ग्लुकोनार्मपीजी सालवीन कोल्ड,एसोकिता, डी कोल्ड टोटल, इत्यादि शामिल है। कई दवा निर्माताओं ने प्रतिबंध की संभावनाओं को देखते हुए पिछले कई वर्षों से अपना उत्पादन और विपणन बंद कर दिया था। किंतु अब समिति की सिफारिशों के बाद इन दवाइयों पर प्रतिबंध लागू हो जाएगा।

Updated : 26 July 2018 2:10 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top