Top
Home > जीवनशैली > स्वास्थ्य और फिटनेस > डायबीटीज के मरीजों को अंडों से नहीं होगा नुकसान

डायबीटीज के मरीजों को अंडों से नहीं होगा नुकसान

डायबीटीज के मरीजों को अंडों से नहीं होगा नुकसान
X

-शोधकर्ताओं ने माना- दिल की बीमारी का खतरा नहीं

सिडनी: शोधकर्ताओं की माने तो हफ्ते में 12 अंडे तक खाने से डायबीटीज की पूर्व अवस्था वाले या टाइप 2 डायबीटीज वाले मरीजों को दिल की बीमारियों का कोई खतरा नहीं रहते है। डायबीटीज के मरीज अब रोजाना बेफ्रिक अंडे खा सकते हैं और ऐसा करने में उन्हें कोई नुकसान भी नहीं होगा। दरअसल अंडों में कॉलेस्ट्रॉल का स्तर अधिक पाया जाता है,जिसकी वजह से डायबीटीज के मरीजों को आम तौर पर अंडे से बचने की सलाह दी जाती है। शोध के हवाले से बताया गया है कि अंडों का ब्लड के कॉलेस्ट्रॉल के स्तर पर कोई असर नहीं पड़ता है। इस शोध के सह लेखक और सिडनी विश्वविद्यालय के निकोलस फुलर ने कहा, डायबीटीज की पूर्व अवस्था और टाइप-2 डायबीटीज के मरीजों के लिए अंडे खाने के सुरक्षित स्तर के बारे में सलाह में मतभेद के बावजूद हमारा शोध इस बात की ओर इशारा करता है कि अगर अंडे आपके खानपान की शैली का हिस्सा हैं, तो इन्हें खाने से परहेज मत करिए।' उन्होंने कहा कि अंडे प्रोटीन और सूक्ष्म पोषक तत्वों के बेहतरीन स्त्रोत हैं और इन्हें खाने से अनेक फायदे होते हैं,जो आंखों और दिल की सेहत के लिए अच्छे तो हैं ही,ये रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ रखने में भी मददगार हैं। साथ ही गर्भावस्था में भी अंडे खाने की सलाह दी जाती है। निकोलस ने कहा कि इस शोध में संतृप्त वसा अम्ल जैसे मक्खन के स्थान पर एकल संतृप्त वसा अम्ल खासकर ऐवकाडो और आलिव ऑइल अपनाने की सलाह दी गई है।


Updated : 23 Jan 2020 12:52 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top