Top
Home > जीवनशैली > स्वास्थ्य और फिटनेस > मिर्च खाकर बचें हार्टअटैक से

मिर्च खाकर बचें हार्टअटैक से

मिर्च खाकर बचें हार्टअटैक से
X

-मौत का खतरा हो जाता है 40 प्रतिशत कम

लंदन: मिर्च का तीखा और कसैला स्वाद हार्ट अटैक, स्ट्रोक और कई दूसरी दिल से जुड़ी बीमारियों से होने वाली मौत के खतरे को काफी कम कर सकता है। यह कहना है शोधकर्ताओं का। मामले में अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि नियमित रूप से अगर मिर्च का सेवन किया जाए तो स्ट्रोक का खतरा 61 प्रतिशत, हार्ट अटैक का खतरा 40 प्रतिशत और आईसैमिक हार्ट हार्ट डिजीज से मौत का खतरा 44 प्रतिशत तक कम हो जाता है। आखिर मिर्च इतनी शक्तिशाली क्यों है? इस स्टडी के ऑथर डॉ मारियालॉरा बोनासियो की मानें तो 'लोगों की डायट कैसी है, हेल्दी है या नहीं इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता। सिर्फ मिर्च को डायट में शामिल करने से मौत का खतरा अपने आप कम हो जाता है। दूसरे शब्दों में कहें तो कोई व्यक्ति हेल्दी मेडिटेरियन डायट फॉलो करता है और कोई व्यक्ति कम हेल्दी डायट का सेवन करता है...दोनों ही लोग अगर मिर्च का सेवन करें तो उनमें दिल की बीमारियों से मौत का खतरा काफी कम हो जाएगा।' स्टडी के रिजल्ट में यह बात सामने आयी कि जिन लोगों ने हफ्ते में 4 बार मिर्च का सेवन किया उनमें हार्ट डिजीज से मौत का खतरा उन लोगों की तुलना में काफी कम हो गया जिन्होंने मिर्च का सेवन बिलकुल नहीं किया। कुछ स्टडीज में यह बात भी सामने आ चुकी है कि चिली पेपर का सेवन करने से कैंसर और डायबीटीज का खतरा भी काफी कम हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मिर्च आंत में मौजूद गट बैक्टीरिया को बढ़ावा देती है और मोटापे को कंट्रोल करने में भी मदद करती है। चिली पेपर्स यानी मिर्च में कैपसेसिन नाम का केमिकल पाया जाता है जो शरीर में इन्फ्लेमेशन यानी सूजन और जलन को कम करने में मदद करता है।


Updated : 3 Jan 2020 12:40 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top