Top
Home > जीवनशैली > स्वास्थ्य और फिटनेस > विटामिन डी से दूर भागेगा माइग्रेन का दर्द

विटामिन डी से दूर भागेगा माइग्रेन का दर्द

विटामिन डी से दूर भागेगा माइग्रेन का दर्द
X

लंदन: एक नए अध्ययन में ब्रिटेन के शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि विटामिन डी से माइग्रेन की छुट्टी कर देगा। सूरज की किरणें विटामिन डी का अच्छा स्रोत हैं। इसलिए, इस विटामिन को हासिल करना कोई कठिन काम भी नहीं है। इसके अलावा बाजार में भी विटामिन डी की गोलियां आसानी से उपलब्ध हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक विटामिन डी का पूरक आहार माइग्रेन के अटैक को जादुई तरीके से कम कर सकता है। परीक्षण में शोधकर्ताओं ने माइग्रेन के रोगियों को छह महीने तक रोजाना विटामिन डी की खुराक दी और देखा कि माइग्रेन का अटैक, जो पहले एक महीने में छह दिन पड़ता था, वह अब घटकर तीन दिन हो गया। विटामिन डी की यह गोली मस्तिष्क की रक्त वाहिकाओं में सूजन को कम कर रक्त के प्रवाह को ठीक करता है। इससे माइग्रेन के दर्द से राहत मिलती है। यहां बता दें कि ब्रिटेन में दस में से एक व्यक्ति को माइग्रेन से प्रभावित है। इससे पहले हुए अध्ययन में भी पाया गया था कि सामान्य लोगों के मुकाबले माइग्रेन के रोगियों में विटामिन डी की कमी होने की संभावना अधिक होती है। शरीर में विटामिन डी की काफी जरूरत होती है। मछली के तेल, पनीर और अंडे से भी यह विटामिन हासिल की जा सकती है। विटामिन डी स्वस्थ हड्डियों के निर्माण के लिए आहार से कैल्शियम को अवशोषित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि यह हृदय रोग और यहां तक कि कैंसर से भी बचा सकता है। नए अध्ययन के मुताबिक, विटामिन डी के कैप्सूल सस्ते और अधिक सुविधाजनक भी हैं। डेनमार्क की एल्बॉर्ग यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने अपने अध्ययन में माइग्रेन के दर्द को कम करने में विटामिन डी को असरदार पाया है।


Updated : 18 July 2019 10:55 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top