Top
Home > जीवनशैली > स्वास्थ्य और फिटनेस > आंखों के लिए घातक हैं हीटर और अलाव

आंखों के लिए घातक हैं हीटर और अलाव

आंखों के लिए घातक हैं हीटर और अलाव
X

-सर्दियों में घेर लेती हैं कई तरह की समस्याएं
लंदन: सर्दियों में कम नमी के कारण आंखों में सूखापन और खुजली जैसी समस्याएं आम हैं। नमी बरकरार रखने से सर्दी के मौसम में आंखों को सूखने से बचाया जा सकता है। एक नेत्र विशेषज्ञ ने यह जानकारी दी है। बर्मिघम में अलबामा विश्वविद्यालय में नेत्र विज्ञान विभाग की एक प्रशिक्षक मारिसा लोकी के हवाले से हेल्थ डे की रिपोर्ट में कहा गया, 'औसतन, ठंड के मौसम में नमी कम हो जाती है। 'उन्होंने कहा, 'इसके अलावा, अधिकांश लोग ठंड से बचने के लिए अपने घरों या कार्यालयों में हीटर चलाते हैं। ऐसे में इस मौसम में हवा में नमी का स्तर वैसे ही कम होता है, जो हीटर चलाने से और कम हो जाता है, जिससे आंखों की नमी और उड़ जाती है।'इस अध्ययन में नमी बनाए रखने के तरीकों के बारे में जानकारी हासिल की गई, ताकि सर्दियों के मौसम में कम नमी के कारण आंखों में सूखापन का सामना ना करना पड़े।लोकी ने कहा कि यदि आप गर्म स्थानों पर समय बिताते हैं, तो हवा में कुछ नमी वापस जोड़ने के लिए एक ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें। बहुत सारे तरल पदार्थ पिएं। अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखने से आपकी आंखों में नमी बनाए रखने में मदद मिलेगी। अपने चेहरे पर सीधे हीटर की गर्मी न पड़ने दें, क्योंकि इससे आपकी आंखों की नमी सूख सकती है। इसके अलावा, कार में, हीट वेंट्स को शरीर के निचले हिस्से की तरफ कर के चलाया जाना चाहिए। रिपोर्ट में कहा गया है कि धूल के कण या ठंडी हवाओं से आंखों को बचाने के लिए चश्मा और टोपी लगाना चाहिए। सर्दियों में कई तरह की समस्याएं आपको घेर लेती हैं। इसमें त्वचा रोगों के साथ ही आंखों से संबंधित बीमारियां भी आम हैं।

Updated : 27 Dec 2018 9:33 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top