Top
Home > जीवनशैली > स्वास्थ्य और फिटनेस > एसिडिटी और मोटापा घटाता है ठंडा दूध

एसिडिटी और मोटापा घटाता है ठंडा दूध

एसिडिटी और मोटापा घटाता है ठंडा दूध
X

लंदन: दूध सेहत के लिए सबसे अच्छा पेय पदार्थ माना जाता है। दूध में काफी मात्रा में कैल्शियम और विटामिन डी होता है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए विशेष रूप से जरूरी होता है। बहुत सारे लोगों को दूध पीना पसंद नहीं होता। यदि उन्हें ठंडे दूध के लाभ का पता चल जाए, तो तो शायद ही वे इससे परहेज करें।
कई लोग दूध को ठंडा करके पीना पसंद करते हैं, जबकि कई लोग गरम। लेकिन क्या अपने कभी जानने की कोशिश की है कि कौन सा दूध ज्यादा बेहतर होता है। चेहरे पर ठंडा दूध लगाने से त्वचा क्लीन और टाइट बनती है। इससे त्वचा हाइड्रेट और स्मूथ हो जाती है। ऑफिस, जिम से आकर बुरी तरह से थक जाते हैं और तुरंत ऊर्जा के लिए कुछ खाने के लिए ढूंढते हैं, तो ओट्स और ठंडे दूध का कटोरा भर खा जाएं। इससे खोई हुई एनर्जी वापस मिल जाएगी और मसल्स रिपेयर होने के लिए प्रोटीन भी मिल जाएगा। गरम दूध पीने की एक अच्छी बात यह है कि इसे पीने से आपका शरीर इसे आराम से हजम कर सकता है। ठंडे दूध को आप कार्नफ्लैक्स या ओट्स के साथ मिलाकर पी सकते हैं। ठंडा दूध पीने एसीडिटी, बार-बार भूख लगना, मोटापा जैसी छोटी-मोटी बीमारियों दूर हो सकती है।
अगर आप बिल्कुल ठंडा दूध पिएं तो सबसे पहले शरीर को नॉर्मल तापमान पर लाने के लिए कैलोरी बर्न करनी पडेगी और फिर उसे पचाना पडेगा। इससे आपका मोटापा कंट्रोल में रहेगा। हल्का गुनगुना दूध पीने से नींद आती है, क्योंकि दूध में अमीनो एसिड ट्रिप्टोफान पाया जाता है, जो दूध गर्म होने तथा स्टार्च वाले फूड के साथ पीने से दिमाग में घुस जाता है। मगर ठंडे दूध में प्रोटीन होने की वजह से ऐसा नहीं हो पाता और इसलिए इसको दिन में कभी भी पिया जा सकता है।

Updated : 22 Dec 2018 9:22 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top