Top
Home > जीवनशैली > स्वास्थ्य और फिटनेस > हार्ट संबंधी बीमारियां हो रही हैं सबसे ज्यादा

हार्ट संबंधी बीमारियां हो रही हैं सबसे ज्यादा

हार्ट संबंधी बीमारियां हो रही हैं सबसे ज्यादा
X

-बदलते लाइफ स्टाइल और खान-पान को ठहरा रहे जिम्मेदार
न्यूयार्क: वर्तमान में हार्ट संबंधी बीमारियां सबसे ज्यादा हो रही हैं। इसके लिए बदलते खानपान और जीवन शैली को जिम्मेदार ठहराया जाता है। यह महिलाओं और पुरुषों दोनों में बराबर देखने में आ रहा है। इस समय हार्ट प्रॉब्लम्स में कोरोनरी आर्टरी डिजीज, दिल की मांसपेशियों का असामान्य तौर पर बढ़ना, हार्ट फेल होना और अनियमित हार्ट बीट जैसी समस्याएं कॉमन हैं। लेकिन हमारी लापरवाही के अलावा हार्ट अटैक के कई और कारण भी हो सकते हैं और इनमें से एक हमारा ब्लड ग्रुप भी शामिल है। जी हां, एक इंटरनैशनल रिसर्च में यह बात सामने आयी है कि हार्ट अटैक का एक कारण हमारा ब्लड ग्रुप भी होता है। ब्लड ग्रुप से हार्ट अटैक के खतरे का पता चल सकता है। साथ ही इस संभावना का भी पता चलता है कि किस ब्लड ग्रुप के लोगों को हार्ट अटैक का ज्यादा खतरा है। ब्लड ग्रुप ए, बी और एबी... ये तीन ब्लड ग्रुप ऐसे हैं जिनमें दिल की बीमारी यानी हार्ट डिजीज होने का खतरा सबसे अधिक होता है। इंटरनैशल शोध में जब सभी ब्लड ग्रुप को ध्यान में रखते हुए और साथ ही कुछ गिनती के हार्ट अटैक के मरीजों को मिलाया गया तब यह पाया गया कि सबसे अधिक हार्ट अटैक के मामले उन्हीं लोगों में पाए गए जिनका ब्लड ग्रुप ए, बी या फिर एबी था। ओ ब्लड ग्रुप को सबसे अच्छा माना जाता है। इस ब्लड ग्रुप के लोगों को हार्ट से जुड़ी बीमारी होने का खतरा सबसे कम रहता है। ओ ब्लड ग्रुप वाले लोगों की तुलना में ए, बी और एबी ब्लड ग्रुप वाले लोगों में दिल का दौरा पड़ने की आशंका 9 फीसदी ज्यादा रहती है। ए ब्लड ग्रुप वाले लोगों को ज्यादा कलेस्ट्रॉल के लिए जाना जाता है, जो कि दिल के दौरे का प्रमुख जोखिम कारक है। गलत आदतों की वजह से आज लगभग सभी लोग किसी ने किसी बीमारी से घिरे हुए हैं। आदतों में सुधार लाकर इन बीमारियों से काफी हद तक बचा जा सकता है।

Updated : 9 Dec 2018 9:23 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top