Top
Home > शहर > अन्य शहर > नई दिल्ली > कोरोना: दिल्ली में जारी रहेगी बिजली सब्सिडी, खर्च होंगे 2880 करोड़

कोरोना: दिल्ली में जारी रहेगी बिजली सब्सिडी, खर्च होंगे 2880 करोड़

कोरोना: दिल्ली में जारी रहेगी बिजली सब्सिडी, खर्च होंगे 2880 करोड़
X

नई दिल्ली: बिजली पर सब्सिडी इस साल भी जारी रहेगी। बजट में सरकार ने 2880 करोड़ रु की राशि का प्रस्ताव किया है। साथ ही सौर ऊर्जा को भी बढ़ावा देने का खाका खींचा गया है। सौर बिजली संयंत्र स्थापित करने के लिए 200 एकड़ जमीन देने का भी प्रस्ताव बजट में किया गया है। दिल्ली सरकार ने पेश बजट में कहा है कि दिल्ली में 24 घंटे बिजली मिल रही है। इस साल भी लोगों को बिजली पर सब्सिडी जारी सरकार रखेगी। वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने सदन में कहा कि केजरीवाल मॉडल ऑफ गवर्नेंस का यह अहम और बहुचर्चित हिस्सा है। दिल्ली में 161 मेगावाट के करीब 3589 सौर उर्जा संयंत्र लगाया है। स्कूल, कॉलेज, सरकारी इमारतें, तकनीकी संस्थानों और न्यायालय में सौर संयंत्र लगाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री किसान आय बढ़ोतरी सोलर योजना के तहत सौर बिजली संयंत्र लगाने के लिए 200 एकड़ जमीन देने का प्रस्ताव किया। ऊर्जा क्षेत्र के लिए 2977 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। बिजली वितरण कंपनियां जगह-जगह उलझे हुए तारों को हटाने का काम करेंगी, ताकि शहर की सुंदरता के साथ ही खतरा से लोगों को बचाया जा सके।

- व्यापार में इनोवेशन सेंटर

दिल्ली सरकार ने व्यापार को बढ़ावा देने के लिए इनोवेशन सेंटर बनाने की बात कहीं है। खड़ग सिंह मार्ग स्थित दिल्ली एम्पोरियम भवन में 7476 वर्ग फुट कार्पेट क्षेत्र में यह केंद्र बनेगा। अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस केंद्र में कान्फ्रेंस हॉल, मीटिंग रूम, वीडियो कान्फ्रेंसिंग, इंटरनेट की सुविधा व्यापारियों को मिलेगी। व्यापारियों के लिए पांच करोड़ रुपये का प्रस्ताव किया गया है।

- छात्रों को जय भीम योजना का लाभ

दिल्ली सरकार के जय भीम प्रतिभा योजना का लाभ अब आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को भी मिलेगा। इस योजना के तहत छात्रों को दिल्ली सरकार मुफ्त कोचिंग की सुविधा देती है। वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने बजट में 100 करोड़ रुपया इस मद में प्रस्तावित किया। पिछले साल संशोधित अनुमान महज 17 करोड़ रुपया रखा गया था। योजना के तहत 10वीं व 12वीं क्लास पास अनुसूचित जातियों व अनुसूचित जन जातियों को यह सुविधा मिलती थी। अब सरकार ने अन्य पिछड़ा वर्ग व आर्थिक दृष्टि से पिछड़े वर्गों के छात्र-छात्राओं को भी इस दायरे में लाया गया है। योजना के तहत 46 कोचिंग संस्थानों के जरिए प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए निशुल्क कोचिंग दी जाती है।

- मुख्यमंत्री विद्यार्थी प्रतिभा योजना शुरू

बजट में मुख्यमंत्री विद्यार्थी प्रतिभा योजना का प्रस्ताव किया गया है। इस योजना के तहत 9वीं और 10वीं कक्षा के ऐसे छात्र जो पिछली कक्षा में कम से कम 50 प्रतिशत अंक हासिल किए है, उन्हें इस योजना के तहत 5 हजार रुपया वजीफा दिया जाएगा। इसी तरह 11वीं व 12वीं कक्षा के ऐसे छात्र जिन्हें पिछली कक्षा में कम से कम 60 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं, उन्हें 10 हजार रुपया की वार्षिक छात्रवृत्ति दी जाएगी। बजट में इस योजना के लिए 150 करोड़ रुपया प्रस्तावित किया गया है। इस तरह से सरकार ने समाज कल्याण व सामाजिक सुरक्षा के लिए बजट में 3868 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।



Updated : 24 March 2020 7:23 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top