Top
Home > शहर > हरिद्वार > किन रास्तों से हरिद्वार आए 31 लाख श्रद्धालु, सीमाओं से घुसे सिर्फ 70 हजार

किन रास्तों से हरिद्वार आए 31 लाख श्रद्धालु, सीमाओं से घुसे सिर्फ 70 हजार

किन रास्तों से हरिद्वार आए 31 लाख श्रद्धालु, सीमाओं से घुसे सिर्फ 70 हजार
X







हरिद्वार: पुलिस प्रशासन की ओर से जारी किए गए शाही स्नान में आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या 31.23 लाख बताई गई है। प्रशासन के आंकड़ों में कई झोल दिखाई दे रहे हैं। हरिद्वार में हर की पैड़ी छोड़ अधिकांश गंगा घाट सोमवार को पूरी तरह खाली थी। मात्र 349 लोगों ने ही सोमवार के लिए अपना रजिस्ट्रेशन कराया था। रजिस्ट्रेशन के अनुसार मात्र 1774 ही श्रद्धालु हरिद्वार आये थे। जबकि कोविड-19 के अनुसार बिना रजिस्ट्रेशन के हरिद्वार आने की अनुमति नहीं है। हरिद्वार की सीमाओं से 357 वाहनों को लौटाया गया था। जो कोविड-19 का टेस्ट नहीं कराना चाहते थे। हरिद्वार के होटल, धर्मशाला और रैन बसरों में 6 लाख लोगों के रुकने की क्षमता है। सीमाओं से 6045 वाहन सोमवार को सीमा में आये और 32095 यात्रियों ने प्रवेश किया। इससे एक रात पहले रविवार को 6538 वाहन हरिद्वार आये और इनमें 31152 यात्रियों ने सीमाओं से हरिद्वार में प्रवेश किया। सोमवार को 17 ट्रेनों से 8 हजार यात्री ही पहुंचे। बसों से भी 15000 यात्री आये। इन सबको देखा जाये तो भी 70 हजार यात्री ही नजर आ रहे है। जबकि प्रशासन की ओर से दावा किया गया है कि यह आंकड़ा हरिद्वार और ऋषिकेश का है। इसमें संत और स्थानीय लोग भी शामिल है। आईजी संजय गुंज्याल की मानें तो पुलिस ने 1.80 करोड़ यात्रियों के हिसाब से तैयारी की थी। और उसी तरह से ट्रैफिक प्लान भी लागू किया गया था। लेकिन मात्र 31.23 लाख ही यात्री पहुंचे। इसी कारण भीड़ कम नजर आई। शाही स्नान प्रारंभ होने पर डीजीपी एवं आईजी कुंभ ने हर की पैड़ी और मेला नियंत्रण भवन के सीसीटीवी कंट्रोल रूम में जायजा लिया। नियमित तौर से जाकर अखाड़ों के जुलूस की स्थिति, हर की पैड़ी पर स्नान की व्यवस्था, अन्य घाटों पर स्नान की स्थिति, प्रमुख मार्गों, बाजारों और पार्किंग की स्तिथि को कैमरों के माध्यम से देख कर दिशा निर्देश दिए गए।

Updated : 2021-04-13T17:22:28+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top