Top
Home > शहर > हरिद्वार > बहादराबाद: बढ़ती महंगाई, पेट्रोल, डीजल व गैस के दामों में बेतहाशा वृद्धि, बेरोजगारी के विरुद्ध कांग्रेस ने प्रदर्शन किया

बहादराबाद: बढ़ती महंगाई, पेट्रोल, डीजल व गैस के दामों में बेतहाशा वृद्धि, बेरोजगारी के विरुद्ध कांग्रेस ने प्रदर्शन किया

बहादराबाद: बढ़ती महंगाई, पेट्रोल, डीजल व गैस के दामों में बेतहाशा वृद्धि, बेरोजगारी के विरुद्ध कांग्रेस ने प्रदर्शन किया
X

बहादराबाद (दैनिक हाक): ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष तनुज सिंह चैहान ने कहा कि आज पूरा देश कोरोना की महामारी से त्रस्त हैं, जहां लोगों के प्रियजन बिछड़ गए हैं और बेरोजगारी की मार भी बढ़ती जा रही हैं, ऊपर से बेतहाशा महंगाई ने जनता की कमर तोड़ कर रख दी। वहीं रोज-रोज पेट्रोल व डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि के चलते परेशान किया जा रहा हैं जबकि दुनियाभर में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट होने के बावजूद भी भारत वर्ष में पेट्रोल एवं डीजल के दामों में बेतहाशा दिन प्रतिदिन होने वाली वृद्धि के खिलाफ उत्तराखण्ड कांग्रेस कमेटी ने विरोध का बिगुल फूंक दिया हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में प्रदेश भर में कांग्रेस धरना देकर विरोध प्रदर्शन करेगी।

ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष ने कहा कि देश में लगातार केन्द्र सरकार ने पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में बढोत्तरी को जारी रखते हुए आर्थिक रूप से परेशान जनता के ऊपर बडी मार दी हैं। पूरे देश में तेल की बढ़ी हुई कीमतों से जनता त्राहि-त्राहि कर रही हैं। पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि राज्य में परिवहन क्षेत्र के किरायों में जिस प्रकार से दोगुना से तीन गुना वृद्धि की गई हैं उससे भी राज्य की जनता परेशान हैं, जबकि आजादी की लड़ाई से लेकर अब तक के सफर में कांग्रेस ने देश प्रेम, निडरता, बगैर स्वार्थ जनसेवा, भाईचारा, एकता और अखंडता जैसे मूल्यों के लिये ही संघर्ष किया। आज जनता के अधिकार कुचले जा रहे हैं। वहीं चारों ओर तानाशाही का आलम हैं। लोकतांत्रिक और संवैधानिक संस्घ्थाओं को खत्म किया जा रहा हैं। बेरोजगारी चरम सीमा पर हैं। खेत-खलिहानों पर हमला बोला जा रहा हैं और देश के अन्नदाताओं पर काले कानून थोपे जा रहे हैं, जिनसे सिर्फ व्यापारियों को फायदा पहुंचता हैं।देश के किसान पिछले वर्ष से लेकर छः माह से भी ज्यादा समय से आंदोलनकर्त हैं। बावजूद इसके सरकार उनकी सुन नहीं रही हैं। अगर किसानों को ही यह कानून स्वीकार्य नहीं हैं तो सरकार को इन कानूनों को वापस लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के दोनों कार्यकालों में सात वर्षों के भीतर केन्द्र सरकार ने पेट्रोलियम पदार्थों में कीमतें बढाकर जनता की गाढ़ी कमाई पर डाका डालने का काम किया हैं। कांग्रेस जनता की परेशानियों को लेकर अब मजबूरी में सड़कों पर उतरने को मजबूर हैं।

Updated : 11 Jun 2021 2:58 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top