Home > राष्ट्रीय > हिंदू मतदाताओं पर नजर, ममता ने 'अल्पसंख्यक कट्टरता' को लेकर सतर्क किया

हिंदू मतदाताओं पर नजर, ममता ने 'अल्पसंख्यक कट्टरता' को लेकर सतर्क किया

हिंदू मतदाताओं पर नजर, ममता ने अल्पसंख्यक कट्टरता को लेकर सतर्क किया

कूचबिहार: तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा से मुकाबले के लिए अपनी रणनीति में बड़ा बदलाव किया है। उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में पहली बार 'अल्पसंख्यक कट्टरता' का जिक्र करते हुए लोगों को इसके खिलाफ सचेत किया है।

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलीमीन (एआईएमआईएम) का नाम लिए बिना उन्होंने उस पर निशाना साधा। ममता बनर्जी ने कूचबिहार में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में कहा, मैं देख रही हूं कि अल्पसंख्यकों के बीच कई कट्टरपंथी हैं और उनका ठिकाना हैदराबाद में है। आप लोग इन पर ध्यान मत दीजिए।

बैठक के बाद ममता बनर्जी कूचबिहार स्थित मदन मोहन मंदिर गईं और वहां उन्होंने प्रार्थना की। यहां से वह राजबाड़ी ग्राउंड में आयोजित रास मेला में शिरकत करने पहुंचीं। राजनीतिक विश्लेषक ममता के बयान और उनकी मंदिर यात्रा को 'हिंदू कार्ड' के तौर पर देख रहे हैं। तृणमूल कांग्रेस भाजपा से मुकाबले के लिए अपनी लाइन बदल रही है। दरअसल कूचबिहार में मतदाताओं की संख्या ज्यादा है और तृणमूल कांग्रेस की नजर इसी वोट बैंक पर है।


Tags:    
Share it
Top