Home > शहर > शामली > कोरोना पोजेटिव केस मिलने के बाद शामली जिले में पूरी तरह से लॉक डाउन

कोरोना पोजेटिव केस मिलने के बाद शामली जिले में पूरी तरह से लॉक डाउन

कोरोना पोजेटिव केस मिलने के बाद शामली जिले में पूरी तरह से लॉक डाउन

शामली (दैनिक हाक): जनपद के कस्बा कैराना में कोरोना पोजेटिव केस मिलने के बाद जिले में पूरी तरह से लॉक डाउन कर दिया गया है। बुधवार को लॉक डाउन के दूसरे दिन सवेरे साढे 6 बजे से साढे 9 बजे तक जरूरतों का सामान खरीदने के लिए छूट दी गई। सवेरे सब्जी तथा किरयाना की दुकाने खुली, जहां लोगों की भीड उमड पडी। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने ऐलान करते हुए भीड को हटाया और दुकानदारों से भी भीड इकटठा न करने तथा लाईन लगाकर सामान देने की अपील की। दोपहर के समय अपने वाहनों पर घूमने वाले बाईक चालकों के चलान काटे गए।

कई वाहन चालकों को लाठिया फटकाकर दौडाया भी गया। दिनभर शहर की सडकों पर सन्नाटा पसरा रहा।

जिले के कस्बे कैराना में गत दिवस कोरोना से संक्रमित मरीज पोजेटिव पाया गया था।

जिसके बाद मंगलवार को दोपहर बाद जिला प्रशासन ने जनपद में लॉक डाउन घोषित कर दिया था। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एतियात के तौर पर अपने संबोधित में पूरे देश में 21 दिनों का लॉक डाउन घोषित कर दिया। जो रात्रि 12 बजे से लागू हो गया है। प्रधानमंत्री ने देश के लोगों से घरों में रहने, साफ सफाई रखने तथा लॉक डाउन में सहयोग देने की अपील की है।

बुधवार सवेरे साढे 6 बजे से साढे 9 बजे तक लॉक डाउन में छूट दी गई। सवेरे से ही व्यापारियों ने अपनी दुकानों को खोला, जिसके बाद सब्जी तथा राशन की दुकानों पर लोगों की भीड उमड पडी। सवेरे करीब 8 बजे बाजारों में दुकानों पर भीड इकटठा होने पर पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए और माईक से ऐलान करते हुए लोगों से भीड इकटठा न करने की अपील की। उन्होने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर जनपद में लॉक डाउन घोषित किया गया, लेकिन भीड इकटठा करने की इजाजत नही है। सभी एक दूसरे से दूरी बनाकर सामान खरीदे और दुकानदार भी लाईन लगाकर ही सामान बेचे।

इसके बाद वाहनों पर आने वाले लोगों से भी पैदल चलने और सामान खरीदने की अपील की गई। बाईकों पर दो से अधिक सवारी करने वाले लोगों को भी कडी फटकार लगाई गई। साढे 9 के बाद पुलिसकर्मियों ने व्यापारियों की दुकानों को बंद करा दिया। जिसके बाद शहर की सडकों पर सन्नाटा पसर गया।

इस दौरान कुछ लोग बाईकों पर सवार होकर शहर में घूमने लगे तो पुलिसकर्मियों ने चलान काटने शुरू कर दिए।

शहर के मुख्य चौराहों, अजंता चौक, विजय चौक, फव्वारा चौक, गुरूद्वारा चौक, शिव चौक आदि स्थानों पर पुलिस की डयूटी लगाई गई थी। जिले को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। जिसके बाद बाहरी लोगों को जिले में प्रवेश नही दिया गया।

इस दौरान वाहनों पर आने वाले लोगों को लाठिया फटाकर दौडाया भी गया। लॉक डाउन के चलते जिले की सडकों पर सन्नाटा पसरा रहा। रेलवे स्टेशन, रोडवेज बस स्टेंड सहित प्राईवेट बस स्टेंडों पर कोई भी व्यक्ति दिखाई नही दिया।

जिलाधिकारी जसजीत कौर तथा पुलिस अधीक्षक विनीत जयसवाल ने भी विभिन्न गलियों तथा मौहल्लों में घूमकर लोगों से घरों में रहने की अपील की है।


Tags:    
Share it
Top