Home > शहर > सहारनपुर > लॉक डाउन में शादी समारोह में आये 54 बाराती फंसे

लॉक डाउन में शादी समारोह में आये 54 बाराती फंसे

लॉक डाउन में शादी समारोह में आये 54 बाराती फंसे

-मुरादाबाद, मेरठ, देवबंद, दिल्ली से आये बाराती है शामिल

सहारनपुर (दैनिक हाक): कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के प्रति देश प्रदेश में किए गए लॉक डाउन के कारण कुछ लोग अपनी रिश्तेदारियों में फंस कर रह गए है। ऐसा ही एक मामला उस समय देखने को मिला, जब शादी समारोह में आये 54 बाराती अपने रिश्तेदारों के यहां ठहरे हुए है और प्रशासन से अपने गन्तव्य पर पहुंचाने की गुहार लगा रहे है।

कोरोना वायरस के चलते देश प्रदेश में किए गए लॉक डाउन के कारण कुछ लोग अपने रिश्तेदारों के यहां फंस गए है। विभिन्न क्षेत्रों में अपने परिचितों से मिलने आये लोग रिश्तेदारियों में ही फंसे हुए है और विगत् 22 मार्च को एक शादी समारोह में भाग लेने आये 54 बाराती फंस गए है। बताया जाता है कि मौहल्ला आतिशबाजान पुल कम्बोहान मिस्सी वाली गली में हाजी अब्दुल रहमान के पुत्र गुल सनव्वर की शादी गुलफ्शा के साथ तय हुई थी, जिसके लिए 54 बाराती आये थे। अचानक ही लॉक डाउन की घोषणा के चलते वह लोग अपनी रिश्तेदारी में ही फंस गए है। बताया जाता है कि मुरादाबाद से हनीफ, हुसनबानों, नसरीन, बिलकिस, शबीना, गुडिया, अजरा, अनम, कुसुम, कुलसुम, हुमैरा, जैद, अयान, मयरा, आफिया, बिजनौर से इमरान, निगहत, अतफ अली, आहिल, आजिश, मोनू, हसन, देवबंद से शहाबुद्दीन, मेरठ से मोईन, शुमायला, शहजाद, साकिब, औरंगजेब, जैनब, मुस्कान, रजा, इनाया, अहमद, अनाविया, अमरदीन, महविश, खतौली से आबाद, अनीसा, सुहेल, शारिक, हुमा, असना, कशफ, तल्हा, अयान, दिल्ली से साजिद, दानिश, अर्स, संजीदा, राशिद, महमूदा आदि शादी समारोह में भाग लेने पहुंचे थे। अचानक ही हुए लॉक डाउन ने उन्हें अपने रिश्तेदारों के यहां रहने के लिए मजबूर कर दिया।

हालांकि 25 मार्च तक किए गए लॉक डाउन में कुछ उम्मीद थी कि शीघ्र ही वाहनों का आवागमन शुरू हो जायेगा, लेकिन अचानक ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 14 अप्रैल तक किए गए लॉक डाउन ने उन्हें झकझोर कर रख दिया है। सभी लोग प्रशासन से अपने गन्तव्य पहुंचाने की गुहार लगा रहे है।


Tags:    
Share it
Top