Home > शहर > रुड़की > मंगलौर में जमात से लौटे आठ लोग होम कोरंटाइन, सम्पर्क में आये लोगों पर भी नजर

मंगलौर में जमात से लौटे आठ लोग होम कोरंटाइन, सम्पर्क में आये लोगों पर भी नजर

मंगलौर में जमात से लौटे आठ लोग होम कोरंटाइन, सम्पर्क में आये लोगों पर भी नजर

रुड़की (दैनिक हाक): मंगलौर के मलकपुरा से दिल्ली और उत्तर प्रदेश जमात में गए आठ लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर होम कोरंटाइन कर दिया गया है। सभी सोमवार रात लौटे थे। उनमें कोरोना का कोई लक्षण नहीं मिला है। कुछ और जमात भी दिल्ली गई है, लेकिन वह अभी वापस नहीं लौटी है।

निजामुद्दीन दिल्ली में तबलीगी जमात में हजारों लोग शामिल हुए थे। इसमें शामिल छह लोगों की कोरोना वायरस की चपेट में आने से मौत हो गई। मंगलौर के मलकपुरा मोहल्ले से आठ लोग सत्रह से उन्नीस फरवरी तक निजामुद्दीन में जमात में शामिल हुए थे। बीस फरवरी के बाद वह उत्तर प्रदेश के जिला सुल्तानपुर में जमात में शामिल रहे। वहां के कुछ लोगों की मदद से उन्होंने एक एंबुलेंस बुक कराई। सोमवार रात एंबुलेंस उन्हें लक्सर में उत्तराखण्ड बॉर्डर पर बिजनौर सीमा पर बालावाली सीमा पर छोड़कर चली गई। वहां से वह रेल पटरी होते हुए लक्सर के खड़ंजा कुतुबपुर गांव में पहुंचे। रात को वह अलग-अलग घरों में रहे। उन्होंने अपने परिवार वालों से बात की। उन्हें लेने के लिए एक वाहन खड़ंजा गांव गया। इस बीच पुलिस भी सक्रिय हो गई। पुलिस ने सभी आठ लोगों को जांच के लिए सिविल अस्पताल रुड़की भेजा। जांच में उनमें कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले। उन्हें अब चौदह दिन के लिए घर में ही कोरंटाइन कर दिया गया है। एसपी देहात एसके सिंह ने बताया कि आठ लोग जमात में गए थे। एंबुलेंस बुक कराने के बाद वह रेलवे लाईन से आ रहे थे। बताया कि सभी को होम कोरंटाइन कर दिया गया है। उन पर लगातार नजर रखी जा रही है। वहीं उनके सम्पर्क में आये लोगों पर भी पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम पर नजर रखे हुए है। कोतवाली प्रभारी प्रदीप चौहान ने बताया अगर किसी ने भी होम कोरंटाइन की गाइड लाइन नहीं मानी तो तत्काल मुकदमा दर्ज कर दिया जाएगा।

उमरा करके वापस लौटे ग्रामीण की स्वास्थ्य विभाग ने जांच की

उमरा करके वापस लौटे ग्रामीण की स्वास्थ्य विभाग ने चेकअप करने के साथ ही घर में रहने की सलाह दी है। सीएचसी प्रभारी डॉ- विक्रांत सिरोही ने बताया कि कस्बे के एक ग्रामीण की उमरा सेे वापस लौटने की जानकारी मिली थी। जिसमें उसकी जांच की गई है। जांच के बाद उसे घर में रहने की चेतावनी भी दी गई है।


Tags:    
Share it
Top