Home > शहर > बिजनौर > वन विभाग ने खेत में मिले बीमार हाथी का कराया उपचार

वन विभाग ने खेत में मिले बीमार हाथी का कराया उपचार

वन विभाग ने खेत में मिले बीमार हाथी का कराया उपचार

बिजनौर (दैनिक हाक): बढ़ापुर वन रेंज के अंतगर्त मोजा रामपुर चक मियां मोहकमपुर आने वाले एक गन्ने के खेत में एक हाथी मरणासन्न अवस्था में पड़ा हुआ था, जिसकी सूचना वन विभाग को मिलने के बाद वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर बीमार हाथी का उपचार कराया, जिसके बाद वन विभाग के आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर मुआयना किया। उपचार मिलने के बाद बीमार हाथी ने मौके पर खड़ी भीड़ को दौड़ा लिया।

बढ़ापुर वन रेंज की पाखरो बीट के अंतर्गत आने वाले मोजा रामपुर/चक मियां मोहकमपुर की सीमा पर बीते दिन बुन्दू पधान के गन्ने के खेत में एक जंगली हाथी के पड़े होने की सूचना ग्राम प्रधान को आसपास के डेरे वालों ने दी जिसके बाद ग्राम प्रधान नसीम अहमद ने वन विभाग को सूचना दी। सूचना मिलने पर रेंजर वीरेंद्र सिंह रावत ने टीम के साथ मौके पर जाकर देखा तो जंगली हाथी मरणासन्न अवस्था मे पड़ा हुआ था। हाथी के अवस्था को देखते हुए डीएफओ नजीबाबाद को सूचना देने के साथ साथ पशुचिकित्सक कोतवाली देहात रविन्द्र सिंह को मोके पर आने के लिये सूचना दी। जंगली हाथी के खेत मे मरने की सूचना पर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुचं गये। वहां पड़े बीमार हाथी की हरकतो से प्रतीत हो रहा था कि उसने कई दिनों से कुछ नही खाया है। जिस कारण उसको बैठने व करवट लेने भी मुश्किल हो रही थी। वन विभाग की सूचना पर मौके पर पहुंचे पशु चिकित्सक रविंद्र कुमार ने हाथी का उपचार करना शुरू किया। कई घण्टे उपचार चलने के बाद देर शाम करीब 5 बजे चीफ कंजरवेटिव जावेद अख्तर मौके पर पहुँचे। उपचार दिए जाने के बाद हाथी की जान में जान आई जिसके बाद बीमार हाथी लगातार उठने का प्रयास कर रहा था लेकिन कमजोरी के कारण उठ नही पा रहा था। वन विभाग द्वारा बीमार हाथी को जेसीबी से सहारा देकर उठाया गया। उसी दौरान उठने के बाद हाथी चीफ कंजरवेटिव व डीएफओ सहित आसपास खड़ी भीड़ के पीछे दौडने लगा। हाथी को पीछे दौड़ते देख लोगों में भगदड़ मच गई। यह नजारा देख वन विभाग की टीम के पसीने छूट गए और उन्होने लोगो की भीड़ को मौके हटाया। चीफ कंजरवेटिव जावेद अख्तर ने ग्राम प्रधान को बुलाकर ग्रामीणों सहित आसपास के डेरों पर रहने वाले लोगों को सतर्क रहने की बात कही।


Tags:    
Share it
Top